Top
Jan Shakti

BIG BREAKING: नीतीश कुमार ने लालू यादव को किया फोन, छोड़ देंगे भाजपा का साथ? महागठबंधन में शामिल को हुए व्याकुल

BIG BREAKING: नीतीश कुमार ने लालू यादव को किया फोन, छोड़ देंगे भाजपा का साथ? महागठबंधन में शामिल  को हुए व्याकुल
X

सूत्रों की मानें तो नितीश कुमार को अपनी गलती का अहसास हो गया है. यही वजह है की नितीश के सूत्र लगातार RJD और कांग्रेस से सम्पर्क कर 2019 में महागठबंधन में वापसी करना चाहते हैं, इस की बानगी आज दिखी एक अरसे के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पूर्व सहयोगी और राजद सुप्रीमो लालू यादव को याद किया है. सूत्रों के मुताबिक मुंबई में इलाज के लिए गए लालू यादव से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने फोनकर उनकी सेहत का हालचाल पूछा. हाल ही में लालू यादव के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर जन्मदिन की बधाई दी थी और उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना की थी. बता दें कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद अभी हेल्थ चेकअप के लिए छह हफ्ते के लिए जमानत पर बाहर हैं. उनका इलाज मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में किया जा रहा है.


जानकारों का कहना है कि 2015 के विधानसभा चुनाव में लालू यादव ने जातिगत जनगणना और आरक्षण को अपना प्रमुख हथियार बनाया जिसमें एनडीए ऐसा उलझा की महागठबंधन की सरकार बन गई, लेकिन चारा घोटाला मामले में जेल जाने के कारण लालू सक्रिय राजनीति से दूर हो गए हैं. इधर नीतीश कुमार ने चुनावी पिच पर फ्रंट फुट पर आकर बैटिंग करनी शुरू कर दी है. जन्म से लेकर ग्रेजुएशन की पढ़ाई तक लड़कियों के लिए अनुदान राशि हो या एससी/एसटी हॉस्टल में पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट के लिए अनुदान राशि, नीतीश ने चुनाव के लिए मास्टरस्ट्रोक खेल दिया है. इसके साथ ही नीतीश ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग तेज कर दी है.


सूत्रों का कहना है कि नीतीश के करीबी लालू प्रसाद यादव, कांग्रेस और शरद यादव से संपर्क साधे हुए हैं। लेकिन तेजस्वी यादव दुबारा नितीश के साथ काम करने के मूड में नहीं हैं।

Next Story
Share it