Top
Jan Shakti

न्यू इंडिया: गोवा के कृषि मंत्री की किसानों को सलाह: अच्छी फसल के लिए दिन में 20 मिनट करें इस मंत्र जाप

न्यू इंडिया: गोवा के कृषि मंत्री की किसानों को सलाह: अच्छी फसल के लिए दिन में 20 मिनट करें इस मंत्र जाप
X

गोवा के कृषि मंत्री ने किसानों को अच्छी पैदावार के लिए अजीबो-गरीब सलाह दी है. कृषि मंत्री विजय सरदेसाई ने कहा है कि अगर किसान अच्छी फसल चाहते हैं तो उन्हें वैदिक मंत्रों का उच्चारण करना चाहिए. 'शिव योग कॉस्मिक फार्मिंग' पायलट प्रोजेक्ट के उद्धघाटन के मौके पर सरदेसाई ने वैदिक तकनीक का समर्थन किया. मंत्री ने किसानों को फसल की बेहतर पैदावार के लिए कम से कम 20 मिनट तक 'ओम रोम जुम साह' मंत्र जपने की सलाह दी है.


बीज बोने से पैदा होने तक मंत्रोच्चारण करने की सलाह

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व केमिकल इंजीनियर से स्वयंभू बाबा बने डॉक्टर अवधूत शिवानंद के नेतृत्व में 'शिव योग कॉस्मिक फार्मिंग' प्रोजेक्ट को शिव योग फाउंडेशन ने तैयार किया है. शिवानंद गुरुग्राम में अपना शिव योग फाउंडेशन चलाते हैं और कृषि मंत्री सरदेसाई की पत्नी इस फाउंडेशन की फॉलोवर हैं. फाउंडेशन ने किसानों के लिए दो दिन की वर्कशॉप आयोजित की, जिसमें किसानों से बीज बोने से लेकर, बीज के पैदा होने तक रोजाना 20 मिनट तक 'ओम रोम जुम साह' मंत्र का उच्चारण करने को कहा गया.



कृषि मंत्री बोले- 'पैदावार बढ़े तो रॉक शो भी करा दूं'

गोवा के कृषि मंत्री ने इस तकनीक का समर्थन किया है. उन्होंने कहा, 'पहले मैं भी नास्तिक था. लेकिन बाबाजी से मिलने और उनके विचार जानने के बाद मैं भी उनसे सहमत हूं. इसमें कोई पैसा नहीं लगा है और कृषि मंत्री के तौर पर खेती को बढ़ाने के लिए मैं हर एक तरीका अपनाना चाहता हूं.' उन्होंने कहा, 'अगर आप मुझे इस बात को लेकर सहमत कर सकेंगे कि एक रॉक शो और ब्यूटी कॉन्टेस्ट भी खेती में मददगार होगा, तो मैं खेतों के बीच में जाकर इसे कराऊंगा. हमें अब ऐसे तरीकों के बारे में जानने की कोशिश करनी चाहिए, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों का ध्यान खेती की ओर खींचा जा सके.'

किसानों के बीच वायरल हो रहा है वीडियो

गोवा के किसानों के बीच व्हाट्सऐप पर ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में दावा किया गया है कि मध्य प्रदेश के किसान शिवानंद के साथ ध्यान लगा रहे हैं. वीडियो में वह किसानों को इस तकनीक के असर के बारे में बता रहे हैं. शिवानंद कहते हैं, 'भगवान शिव की तीसरी आंख के जरिए ब्रह्मांड की शक्ति से खेत के चारों ओर फैली नकारात्मक विनाशकारी ध्वनियों को कम किया जा रहा है, जिससे स्वस्थ बीज अंकुरण हो.'

Next Story
Share it