Top
Jan Shakti

ट्रेन में यात्रा करने से पहले जान लें रिजर्वेशन को लेकर बदला ये नियम, ऐसी मिलेगी ये सुविधा!

सुविधा यह होगी कि वेटिंग लिस्ट में टिकट ले चुके यात्रियों को आखिरी वक्त तक अवसर मिलेगा। इसके साथ ही ट्रेन में टीटीई की मनमानी भी खत्म होगी। रेल यात्रियों की सुविधा के हिसाब से ट्रेन के संचालन में अभी कई और बदलाव किये जा सकते हैं।

ट्रेन में यात्रा करने से पहले जान लें रिजर्वेशन को लेकर बदला ये नियम, ऐसी मिलेगी ये सुविधा!
X

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे ने ट्रेन टिकट रिजर्वेशन के नियमों को लेकर बदलाव किया है रेलवेे ने यात्रियों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए रिजर्वेशन रूल्‍स में बड़ा बदलाव किया है. रेलवे के मुताबिक, अब ट्रेन स्‍टेशन से छूटने के 30 मिनट पहले दूसरा आरक्षण चार्ट (2nd Reservation Chart) भी जारी किया जाएगा. रेलवे पहला आरक्षण चार्ट ट्रेन खुलने के 4 घंटे पहले जारी करता है। इस बदलाव के पीछे मकसद है कि पहले रिजर्वेशन चार्ट के आधार पर खाली सीटों के लिए ऑनलाइन और पीआरएस काउंटरों पर टिकटों की बुकिंग (Ticket Booking) की जा सके। बता दें कि कोविड-19 को देखते हुए रेलवे ने ट्रेन खुलने से 2 घंटे पहले दूसरा आरक्षण चार्ट जारी करने का अस्थायी निर्णय लिया था। रेलवे पहला आरक्षण चार्ट ट्रेन खुलने के 4 घंटे पहले जारी करता है।

सुविधा यह होगी कि वेटिंग लिस्ट में टिकट ले चुके यात्रियों को आखिरी वक्त तक अवसर मिलेगा। इसके साथ ही ट्रेन में टीटीई की मनमानी भी खत्म होगी। रेल यात्रियों की सुविधा के हिसाब से ट्रेन के संचालन में अभी कई और बदलाव किये जा सकते हैं।

कोविड19 महामारी के दौरान रेलवे ने स्पेशल ट्रेन के खुलने से दो घंटे पहले दूसरा आरक्षण चार्ट जारी करने का अस्थाई निर्णय लिया था। भारतीय रेल ने 11 मई 2020 को स्पेशल ट्रेन के लिए दूसरा आरक्षण चार्ट जारी करने के नियमों में यह बदलाव किया था।

कोविड संकट के दौर में श्रमिक ट्रेन का संचालन एक मई 2020 से शुरू हुआ था। यह व्यवस्था तात्कालिक सावधानी व सतर्कता की वजह से की गई थी। फिलहाल रेलवे करीब 475 ट्रेन ही चला रही है।

सवारी गाडि़यों को चलाने को लेकर रेलवे कई तरह के प्रयोग कर रहा है। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में रेलवे पूरी तरह एक व्यावसायिक संगठन के तौर पर ट्रेन चलाने जा रही है जिसमें राजनीतिक हस्तक्षेप कम होगा।

भारतीय रेलवे अब ट्रेन के संचालन के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की मदद लेने जा रही है। त्योहारी सीजन में शुरू की जाने वाली ट्रेन का चयन इसी आधुनिक डिजिटल प्रणाली से किया जा रहा है। इसके तहत जैसे ही किसी निश्चित रूट की ट्रेन में वेटिंग लिस्ट एक खास नंबर से ऊपर जाएगा, उस रूट में नई ट्रेन जुड़ जाएगी ताकि यात्रियों को उसमें आरक्षण मिल सके।

Next Story
Share it