Top
Jan Shakti

Covid Vaccine पर सीरम इंस्टीट्यूट का नया अपडेट- जानें कहां तक पहुंचा टीका का ट्रायल

Covid-19 Vaccine Updates: 'इंडियन एक्सप्रेस' वेबसाइट के मुताबिक, 'सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute) के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉक्टर सुरेश जाधव ने बताया कि देश को अगले साल मार्च तक कोरोना की वैक्सीन मिल सकती है.

Covid Vaccine पर सीरम इंस्टीट्यूट का नया अपडेट- जानें कहां तक पहुंचा टीका का ट्रायल
X

Covid-19 Vaccine News: देश में कोरोना का कहर जारी है. भारत में कोरोना वायरस से 74 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और 1 लाख 12 हजार से अधिक की जान जा चुकी है. देश में कोरोना की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) को लेकर भी वैज्ञानिक दिन रात एक किये हुए हैं. उम्मीद की जा रही है कि कोरोना की वैक्सीन (Covid Vaccine) साल के अंत में या अगले साल की शुरुआत में देश में विकसित हो जाएगी. 'इंडियन एक्सप्रेस' वेबसाइट के मुताबिक, 'सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute) के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉक्टर सुरेश जाधव ने बताया कि देश को अगले साल मार्च तक कोरोना की वैक्सीन मिल सकती है. बता दें कि . सीरम इंस्टीट्यूट ही भारत में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन को ब्रिटेन की एस्ट्रेजेनिका (Oxford-AstraZeneca) के साथ तैयार कर रही है.

इंडियन एक्सप्रेस ने डॉक्टर सुरेश जाधव के हवाले से लिखा, 'कई सारी कंपनियां इस दिशा में तेजी से काम कर रही है. उन्होंने बताया कि दो कैंडिडेट तीसरे फेज के ट्रायल में हैं वहीं, एक दूसरे फेज के ट्रायल में है. साथ ही कई और कंपनियां भी इस प्रयास में जुटी हुई है.

उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुख्य वैज्ञानिक डॉक्टर सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि कोविद -19 के खिलाफ एक टीका अगले साल की दूसरी तिमाही तक तैयार हो जाना चाहिए. उन्होंने 'इंडियन एक्सप्रेस' से कहा, 'जनवरी 2021 तक हमें परिणाम दिखने लगेगा और 2021 की दूसरी तिमाही तक SARS-CoV-2 के खिलाफ टीका तैयार हो जाना चाहिए.'

वहीं, हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने कहा था कि अगले साल की शुरुआत में भारत को एक से अधिक स्रोतों से कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) मिलने की उम्मीद है. डॉक्टर हर्षवर्धन ने बताया कि भारत में अगले साल की शुरुआत में कोरोनो वायरस का टीका लगने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा, 'हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले साल की शुरुआत में हमारे पास एक से अधिक स्रोतों से देश में टीका होना चाहिए. ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक के दौरान हर्षवर्धन ने कहा कि हमारे विशेषज्ञ समूह देश में वैक्सीन के वितरण को कैसे शुरू करें, इसकी योजना बनाने के लिए रणनीति तैयार कर रहे हैं.'

वहीं, इससे पहले डॉ. हर्षवर्धन ने संडे संवाद में बताया था कि देश में जो फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स है उन्हें सबसे पहले वैक्सीन वितरित की जाएगी. इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने ठंड और त्योहारों के लिए भी जनता को चेताया. उन्होंने कहा कि त्योहारों के दिनों में भीड़ लगाना और लापरवाही बरतना काफी खतरनाक हो सकता है.

Next Story
Share it