Top
Jan Shakti

BREAKING: शपथ से पहले ही JDU में बगावत, शरद यादव और अली अनवर ने नीतीश के फैसले को बताया गलत

BREAKING: शपथ से पहले ही JDU में बगावत, शरद यादव और अली अनवर ने नीतीश के फैसले को बताया गलत
X

पटना। बिहार में नीतीश कुमार के बीजेपी से हाथ मिलाने के बाद ही जेडीयू में बगावत के सूर बुलंद होने शुरू हो गए हैं। जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव ने नीतीश के फैसले को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि नीतीश ने गठबंधन तोड़ने और बीजेपी से हाथ मिलाने में जल्दबाजी की। ऐसे में जनता के बीच एक गलत संदेश जाएगा। वहीं जेडीयू के राज्यसभा सांसद अली अनवर ने गुरुवार को कहा कि नीतीश कुमार अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर बीजेपी से हाथ मिला लिया लेकिन मुझे मेरी अंतरात्मा इस बात की इजाजत नहीं देती। पिछले कई दिनों से बिहार में राजनीतिक घमासन जारी था। 23 जुलाई को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने वाली थी लेकिन वो स्थगित कर दी गई। अगर बैठक होती तो मैं उसमें अपनी बात रखता। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी के सामने मुझे मौका मिला तो इस विषय में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से बात करूंगा।




पीएम ने नीतीश को दी बधाई

नीतीश के इस्तीफे के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई से जुड़ने के लिए नीतीश कुमार जी को बहुत-बहुत बधाई। सवा सौ करोड़ नागरिक ईमानदारी का स्वागत और समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश, विशेष रूप से बिहार के उज्जवल भविष्य के लिए राजनीतिक मतभेदों से ऊपर उठकर भ्रष्टाचार के खिलाफ एक होकर लड़ना, आज देश और समय की मांग है।


लालू ने लगाया नीतीश पर हत्या का आरोप

बिहार में मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद आरजेडी प्रमुख लालू यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार ने कहा था मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन भाजपा के साथ सरकार नहीं बनाएंगे। बल्कि नीतीश ने कहा था कि संघ मुक्त भारत बनाएंगे। लालू यादव ने नीतीश पर बड़ा आरोप लगाया। लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार पर 1991 में हत्या का आरोप है और इस मामले में केस चल रहा है। लालू ने कहा कि नीतीश पर 302, 307 का मामला दर्ज है।

Next Story
Share it