Top
Janskati Samachar

Ajay Devgan Biography in Hindi, Age, Height, Boyfriend, Net Worth | अजय देवगन का जीवन परिचय

अजय देवगन भारतीय बॉलीवुड फिल्‍मों के मशहूर अभिनेता, निर्देशक और निर्माता हैं। वे हिन्‍दी सिनेमा के बेहतरीन अभिनेताओं में से एक माने जाते है। अजय देवगन को बेहतरीन अभिनय करने के लिए अपने कॅरियर मे दो बार राष्‍ट्रीय पुरूस्कार से नवाजा गया हैं जिसमे फिल्मफेयर अवार्ड्स, नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट एक्टर और इसके अलावा इन्हें भारत सरकार की तरफ से साल 2016 में "पद्मा श्री" अवार्ड शामिल हैं।

Ajay Devgan Biography in Hindi, Age, Height, Boyfriend, Net Worth | अजय देवगन का जीवन परिचय
X

Ajay Devgan Biography in Hindi, Age, Height, Boyfriend, Net Worth | अजय देवगन का जीवन परिचय

Ajay Devgan Biography in Hindi, Age, Height, Boyfriend, Net Worth | अजय देवगन का जीवन परिचय

  • वास्तविक नाम विशाल वीरू देवगन
  • जन्म 2 अप्रैल 1969
  • जन्मस्थान नई दिल्ली
  • पिता वीरू देवगन
  • माता वीना देवगन
  • पत्नी काजोल
  • पुत्र युग देवगन
  • पुत्री निसा देवगन
  • व्यवसाय अभिनेता
  • डेब्यू मूवी फूल और काँटे
  • पुरस्कार आईफा
  • नागरिकता भारतीय

भारतीय अभिनेता अजय देवगन (Ajay Devgan Biography in Hindi)

अजय देवगन भारतीय बॉलीवुड फिल्‍मों के मशहूर अभिनेता, निर्देशक और निर्माता हैं। वे हिन्‍दी सिनेमा के बेहतरीन अभिनेताओं में से एक माने जाते है। अजय देवगन को बेहतरीन अभिनय करने के लिए अपने कॅरियर मे दो बार राष्‍ट्रीय पुरूस्कार से नवाजा गया हैं जिसमे फिल्मफेयर अवार्ड्स, नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट एक्टर और इसके अलावा इन्हें भारत सरकार की तरफ से साल 2016 में "पद्मा श्री" अवार्ड शामिल हैं। अपनी अदाकारी से सबके दिल जीतने वाले अजय देवगन गंभीर अभिनय करने के लिए भी जाने जाते हैं। अब तक वे 100 से भी ज्यादा फिल्मे कर चुके है।

अजय देवगन का प्रारंभिक जीवन (Ajay Devgan Early Life)

अजय देवगन का जन्म 2 अप्रेल, 1969, को दिल्ली मे एक पंजाबी परिवार में हुआ था। वह मूल रूप से पंजाब के अमृतसर से आते हैं। अजय देवगन का जन्म का नाम विशाल देवगन हैं। उनके पिता वीरू देवगन हिंदी फिल्मों के स्टंटमैन और एक्शन फिल्म डायरेक्टर भी थे। अजय की मां वीणा देवगन ने कुछ फिल्मों का निर्माण किया था। उनका एक भाई भी हैं जिनका नाम अनिल देवगन हैं। अजय ने स्नातक की पढ़ाई मुंबई के मिट्ठी भाई कॉलेज से पूरी की थी।

अजय देवगन का निजी जीवन (Ajay Devgan Personal Life)

अजय देवगन ने मशहूर अभिनेत्री काजोल से 1999 मे प्रेम विवाह किया था. जिनसे उनके दो बच्‍चे है. लड़की का नाम नायसा और लड़के का नाम युग हैं। पहली बार अजय और काजोल की जोड़ी 1995 में प्रदर्शित फिल्म "हलचल" में नजर आई थी।

अजय देवगन की फ़िल्मी करियर (Ajay Devgan Filmy Career)

अजय देवगन का जन्म 2 अप्रेल, 1969, को दिल्ली मे एक पंजाबी परिवार में हुआ था। वह मूल रूप से पंजाब के अमृतसर से आते हैं। अजय देवगन का जन्म का नाम विशाल देवगन हैं। उनके पिता वीरू देवगन हिंदी फिल्मों के स्टंटमैन और एक्शन फिल्म डायरेक्टर भी थे। अजय की मां वीणा देवगन ने कुछ फिल्मों का निर्माण किया था। उनका एक भाई भी हैं जिनका नाम अनिल देवगन हैं। अजय ने स्नातक की पढ़ाई मुंबई के मिट्ठी भाई कॉलेज से पूरी की थी।

अजय देवगन ने फिल्‍मी सफ़र की शुरूआत डाइरेक्टर संदेश कोहली की फिल्‍म 'फूल और कांटे' से की। यह फिल्‍म उस समय की सबसे चर्चित सुपरहिट फिल्म थी, इस फिल्‍म में दो मोटरसाइकिल पर पैर रखकर उनके द्वारा की गई एंट्री आजतक चर्चा का विषय बनी रहती हैं। इस फिल्म के ज़रिए अजय देवगन ने बॉलीवुड मे धमाकेदार एंट्री मारी. इसके बाद आई उनकी फिल्‍म 'जिगर' भी हिट रही थी, इसके बाद उनकी कई फिल्‍में आईं जिन्‍होंने बॉक्‍स ऑफिस पर अच्‍छा व्‍यवसाय किया।

इसके बाद वे लगातार दिलवाले (1994), सुहाग (1994), नाजायज (1995), दिलजले (1996) और इश्क (1997) जैसी सफल और सुपरहिट फिल्मे करते गए। फिल्‍म 'हम दिल दे चुके सनम' उनके करियर का टर्निंग प्‍वाइंट रही जिसके लिए उन्‍हें कॉफी प्रशंसा मिली। उन्‍होंने लगभग हर शैली की फिल्‍मों में काम कियाा जख्‍म, द लिजेंड ऑफ भगत सिंह, कंपनी, गंगाजल, गोलमाल, राजनीति, सिंहम उनके करियर की अहम फिल्‍में रहींा

साल 2000 से पहले, उन्होंने राम गोपाल वर्मा की मुंबई अंडरवर्ल्ड कंपनी पर आधारित फिल्म में एक आलोचनात्मक (प्रशंसात्मक) अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने एक गैंगस्टर की भूमिका अदा की थी, इसके लिये उन्होंने बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर बेस्ट क्रिटिक्स अवार्ड भी मिला। इसी साल उन्होंने एक और प्रशंसात्मक अभिनय का प्रदर्शन दीवानगी फिल्म में किया, जिसके लिये उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट विलन का अवार्ड मिला था। 2003 में राजकुमार संतोषी की भगत सिंह पर आधारित फिल्म दी लीजेंड ऑफ़ भगत सिंह में उनके अभिनय के लिये उन्हें बेस्ट एक्टर का दूसरा राष्ट्रिय फिल्म अवार्ड मिला था।

उन्होंने अब तक अपने फ़िल्मी करियर में कई सफल फिल्मे दी है जिनमे मुख्य रूप से रेनकोट (2004), गंगाजल (2004), युवा (2004), अपहरण (2005), ओमकारा (2006), करीना कपूर के साथ गोलमाल: फन अनलिमिटेड (2006), गोलमाल रिटर्न्स (2008), ऑल दी बेस्ट: फन बिगेंस (2009), वन्स अपॉन ए टाइम इन मुंबई (2010), गोलमाल 3 (2010), राजनीती (2010), सिंगम (2011), बोल बच्चन (2012), सोनाक्षी सिन्हा के साथ सन ऑफ़ सरदार (2012), सिंगम रिटर्न्स (2014) और दृश्यम (2015) शामिल है। अब तक वे 100 से भी ज्यादा फिल्मे कर चुके है। और इस तरह से उन्होंने अपनेआप को बॉलीवुड का बेहतरीन और सबसे सफल अभिनेता भी साबित किया है।

1995 में देवगन और उनकी पत्नी काजोल फिल्म गुंडाराज के बाद से आपसी रिश्ते में दिखाई दिए। उस समय मीडिया उन्हें "एन अनलाइकली पेयर" कहता था, क्योकि उन दोनों के रंग में काफी फर्क था। 24 फरवरी 1999 वो दोनों पारंपरिक महाराष्ट्रियन रीती-रिवाजो से देवगन के ही घर में विवाह बंधन में बंधे। उनके दो बच्चे भी है। अगस्त 2009 को अजय ने अपने सरनेम "Devgan" को "Devgn" में परिवर्तित किया था। अभिनेत्री काजोल और अजय देवगन ने बहुत पहले ही साफ कर दिया है कि उनके लिए काम से पहले परिवार है। परिवार के लिए ये दोनों कुछ भी कर सकते हैं और ऐसा ही हो रहा है।

काजोल बच्चों के लिए फिल्में नहीं कर रहीं हैं और उधर, अजय ने पिता वीरू देवगन की खराब सेहत के चलते फिल्म की शूटिंग बंद कर दी। सूत्रों ने बताया कि अजय देवगन के पिता अस्वस्थ हैं और उन्हें अस्पताल ले जाने के लिए अजय देवगन को अपनी फिल्म सिंघम-2 की शूटिंग बीच में ही रोकनी पड़ी। सिर्फ अजय ने ही नहीं, बल्कि फिल्म की पूरी टीम ने शूटिंग बंद कर दी। फिल्म निर्देशक रोहित शेंट्टी को जैसे ही अजय के पिता के बारे में पता चला, उन्होंने तुरंत शूटिंग बंद की और सभी अजय के साथ अस्पताल पहुंच गए।

अजय देवगन हिन्दी फिल्म जगत में निर्देशक बनने का सपना लेकर आए थे. अजय देवगन का मूल नाम विशाल देवगन है. उनके पिता वीरू देवगन हिंदी फिल्मों के नामी स्टंट मैन थे. जबकि उनकी मां वीणा देवगन ने एक-दो फिल्मों का निर्माण किया था. घर में फिल्मी माहौल के होने कारण अजय देवगन की रुचि भी फिल्मों की ओर हो गई और वह फिल्म निर्देशक बनने का सपना देखने लगे. उन्होंने स्नातक की पढ़ाई मुंबई के मीठी भाई कॉलेज से पूरी की. इसके बाद वह फिल्म निर्देशक शेखर कपूर के साथ सहायक निर्देशक के रूप में काम करने लगे. इसी दौरान उनकी मुलाकात कुक्कु कोहली से हुई जो उन दिनों नई फिल्म 'फूल और कांटे' के निर्माण में व्यस्त थे और एक ऐसे अभिनेता की तलाश में थे जो रूमानी भूमिका के साथ साथ एक्शन दृश्य भी कर सके.

इस दौरान उन्होंने अजय देवगन के बारे में सुना कि वे एक्शन और नृत्य करने में माहिर हैं और उन्होंने उनसे फिल्म का नायक बनने की पेशकश की. अपनी पहली ही फिल्म की सफलता के बाद अजय देवगन दर्शकों के बीच अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गए. इसके बाद अजय ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते गए. 90 के दशक में अजय देवगन और करिश्मा सबसे हॉट जोड़ियों में से एक थे, दोनों ने एक साथ 5 फिल्मों में काम किया। खबरों की मानें तो देखते ही देखते दोनों में प्यार हो गया था। उस दौर की फिल्मी मैग्जीन में छपी खबरों के मुताबिक जब करिश्मा अजय की जिंदगी में आईं तो उस वक्त रवीना के साथ अजय डेट कर रहे थे, लेकिन करिश्मा के प्यार में गिरफ्तार अजय ने रवीना को दगा दे दिया।

लेकिन अफसोस करिश्मा और अजय का रिश्ता भी ज्यादा दिन तक नहीं टिक पाया और उनकी जिंदगी में काजोल आ गईं। कुछ साल के रिश्ते के बाद ही दोनों ने शादी का फैसला किया और काजोल अजय की दुल्हन बन गईं। वहीं करिश्मा का नाम अभिषेक बच्चन से जुड़ा, लेकिन उनसे भी ज्यादा दिन तक रिश्ता नहीं रहा और बाद में करिश्मा ने दिल्ली के एक कारोबारी संजय कपूर से शादी कर ली।

काजोल और अजय देवगन के मिलने में एक बड़ी भूमिका अजय की साली तनिषा ने निभाई थी। हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा तनिषा ने किया। तनिषा बताती हैं कि शुरुआती दौर में जब काजोल और अजय में प्रेम की शुरुआत हुई थी तब वह ही अजय के सारे मैसेज और गिफ्ट्स काजोल को पहुंचाया करती थीं। यहां तक कि दोनों के मिलने की जगह भी तनिषा ही तय करती थीं। चूंकि काजोल ने काफी दिनों के बाद अपने परिवार वालों से अजय के बारे में बताया था।

तनिषा बताती हैं कि जब उनकी मां तनुजा को दोनों के अफेयर के बारे में पता चला था तो उन्होंने सिर्फ इसलिए अजय और काजोल के रिश्ते को स्वीकारा था, क्योंकि तनुजा को अजय देवगन के पिता वीरू देवगन काफी हैंडसम लगते थे। तनुजा उनके काम की फैन थीं, तो उनको लगा था कि अजय भी वीरू की तरह ही होंगे।

अजय ने अपने जीवन में बहुत सारे अवार्ड्स जीते हैं जैसे- फिल्म फेयर अवार्ड्स, नेशनल फिल्म अवार्ड आफ बेस्ट एक्टर और इसके अलावा इन्हें भारत सरकार की तरफ से साल 2016 में पदम् श्री अवार्ड से सम्मानित भी किया गया। अजय देवगन ने खुद की होम प्रोडक्शन कम्पनी अजय देवगन फिल्मस के नाम से साल 2000 में शुरू की।

फिल्में :

फूल और काँटा (1991), जिगर (1992), दिव्या शक्ति (1993), प्लेटफार्म (1993), शक्तिमान (1993), एक ही रास्ता (1993), धनवान (1993), संग्राम (1993), दिलवाले (1994), विजयपथ (1994), सुहाग (1994), नाजायज (1995), गुंडाराज (1995), हकीकत (1995), जंग (1996), दिलजले (1996), जान (1996), इश्क (1997), इतिहास (1997), मेजर साब (1998), प्यार तो होना ही था (1998), होगी प्यार की जीत (1999), हम दिल दे चुके सनम (1999), हिंदुस्तान की कसम (1999),

गैर (1999), कच्चे धागे (1999), दिल क्या करे (1999), दीवाने (2000), राजू चाचा (2000), कंपनी (2002), द लीजेंड ऑफ भगत सिंह (2002), दीवानगी (2002), कयामत: सिटी अंडर थ्रेट (2003), गंगाजल (2003), खाकी (2004), मस्ती (2004), युवा (2004), इंसान (2005), टैंगो चार्ली (2005), काल (2005), मैं ऐसा ही हूँ (2005), अपहरण (2005), धरती कहे पुकार के (2006), ओमकारा (2006), कैश (2007), गोलमाल रिटर्न्स (2008), आल द बेस्ट: फन बैगिन्स (2009),

नाम (2009), लंदन ड्रीम्स (2009), अतिथि तुम कब जाओगे? (2010), राजनीति (2010), वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई (2010), आक्रोश (2010), गोलमाल 3 (2010), सिंघम (2011), रासकल्स (2011), बोल बच्चन (2012), सन ऑफ सरदार (2012), मक्खी (2012), हिम्मतवाला (2013), सत्याग्रह (2013), सिंघम रिटर्न्स (2014), एक्शन जैक्सन (2014), दृश्यम (2015), फितूर (2016) और शिवाय (2016).

Next Story
Share it