Janskati Samachar

Bill Gates Biography in Hindi | बिल गेट्स का जीवन परिचय

Bill Gates Biography in Hindi | बिल गेट्स अमेरिका के एक बड़े बिजनेसमैन है, जो माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और CEO है। माइक्रोसॉफ्ट दुनिया की सबसे बड़े सॉफ्टवेयर कंपनी है। बिल गेट्स ने इस कंपनी में अलग अलग पद में काम किया है, वे चेयरमैन, सीईओ और चीफ सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट रह चुके है। पर्सनल कंप्यूटर की दुनिया में एक क्रांति लाने के लिए बिल गेट्स का नाम इतिहास के पन्नों में अंकित है।

Bill Gates Biography in Hindi  बिल गेट्स का जीवन परिचय
X

Bill Gates Biography in Hindi बिल गेट्स का जीवन परिचय

Bill Gates Biography in Hindi | बिल गेट्स का जीवन परिचय

  • पूरा नाम विलियम हेनरी गेट्स
  • जन्म 28 अक्टूबर 1955
  • जन्मस्थान सीऐटल, वाशिंगटन
  • पिता विलियम एच. गेट्स
  • माता मैरी मैक्सवेल गेट्स
  • पत्नी मेलिण्डा गेट्स
  • पुत्र फोवे अडले गेट्स
  • पुत्री जेनिफर कैथरीन गेट्स
  • व्यवसाय माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ, टेक्नोलॉजी एडवाइजर
  • पुरस्कार पद्म भूषण, प्रेसिडेंशियल मेडल ऑफ़ फ़्रीडम
  • नागरिकता/राष्ट्रीयता अमेरिकन

माइक्रोसॉफ्ट के CEO बिल गेट्स (Bill Gates Biography in Hindi)

Bill Gates Biography in Hindi | बिल गेट्स अमेरिका के एक बड़े बिजनेसमैन है, जो माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और CEO है। माइक्रोसॉफ्ट दुनिया की सबसे बड़े सॉफ्टवेयर कंपनी है। बिल गेट्स ने इस कंपनी में अलग अलग पद में काम किया है, वे चेयरमैन, सीईओ और चीफ सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट रह चुके है। पर्सनल कंप्यूटर की दुनिया में एक क्रांति लाने के लिए बिल गेट्स का नाम इतिहास के पन्नों में अंकित है।

प्रारंभिक जीवन (Bill Gates Early Life)

बिल गेट्स का जन्म 28 अक्टूबर 1955 को हुआ था। इनके पिता विलियम एच. गेट्स एक अच्छे वकील थे, जबकि माता मैरी मैक्सवेल 'फर्स्ट इंटरस्टेट बैंक सिस्टम' 'यूनाइटेड वे' की बोर्ड्स ऑफ़ डायरेक्टर्स में से एक थी। बिल की एक बड़ी और एक छोटी बहन है। बिल के पिता वकील थे, जिस वजह से उन्हें कम उम्र से ही प्रतिस्पर्धी होने के लिए प्रोत्साहित किया जाता था। Bill Gates Biography in Hindi

शिक्षा (Bill Gates Education)

बिल गेट्स बचपन से भी पढ़ने में काफी होशियार विलक्षण प्रतिभा के बालक थे। उनकी शुरु से ही पढ़ने में काफी दिलचस्पी थी, वे घंटों घर में अकेले ही पढ़ा करते थे। इसके बाद 1968 में बिल गेट्स के माता-पिता ने उनका एडमिशन एक प्राइवेट स्कूल लेकसाइट स्कूल में करवा दिया। शुरुआत में बिल गेट्स सभी विषयों में अच्छे थे, लेकिन गणित और विज्ञान में उन्होंने महारथ हासिल की थी।

बिल ने अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने हॉवर्ड कॉलेज में एडमिशन लिया। उनके माता-पिता उनका करियर कानून में बनवाना चाहते थे लेकिन बिल गेट्स का इंटरेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और सॉफ्टवेयर्स में था। अपने कॉलेज के दिनों में भी बिल गेट्स अपना ज्यादातर समय कंप्यूटर के साथ ही बिताते थे, फिर इसके बाद उन्होंने कॉलेज छोड़कर अपने दोस्त एलन के साथ बिजनेस करने का फैसला लिया।

निजी जीवन (Bill Gates Married Life)

बिल गेट्स 1989 में मेलिंडा फ्रेंच से मिले थे, जो उनसे उम्र में काफी छोटी थी। ये उनकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट में ही कार्यरत थी, दोनों एक दुसरे के करीब आते गए, जिसके बाद बिल ने 1994 में मेलिंडा से शादी कर ली थी। बाद इनके तीन बच्चे हुए, एक पुत्र फोवे अडले गेट्स, और दो पुत्री जेनिफर कैथरीन गेट्स और रोरी जॉन गेट्स। Bill Gates Biography in Hindi

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का निर्माण (Bill Gates Found Microsoft Company)

1975 में बिल गेट्स और उनके दोस्त एलन ने मिलकर माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का निर्माण किया, जिसे शुरू में माइक्रो सॉफ्ट के नाम से जाना गया। इन लोगों ने 'बेसिक' नाम के प्रोग्राम से शुरुवात की, यह माइक्रो कंप्यूटर की प्रसिध्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। यह प्रयोग सफल रहा, जिसके बाद इन्होने दुसरे सिस्टम के लिए प्रोग्रामिंग लैंग्वेज डेवलप करना शुरू कर दिया। थोड़े ही समय में बिल गेट्स की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट सफलता की सीढ़ी चढ़ने लगी, 5 साल से कम समय में ही माइक्रोसॉफ्ट कंपनी लोगों की नजर में आने लगी थी।

1980 में 'इंटरनेशनल बिजनेस मशीन (IBM)' द्वारा माइक्रोसॉफ्ट को एक डील ऑफर की गई, IBM ने माइक्रोसॉफ्ट से कहा कि वे उनके आने वाले पर्सनल कंप्यूटर के लिए 'बेसिक इंटरप्रीटर' लिखें। माइक्रोसॉफ्ट ने IBM के लिए PC DOS ओपरेटिंग सिस्टम बनाया, जिसके बदले में IBM ने एक समय की फीस 50 हजार डॉलर दी।

1985 को बिल गेट्स की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने 'विंडोज' नाम के एक ओपरेटिंग वातावरण को दुनिया के सामने प्रस्तुत किया। यह 'माइक्रोसॉफ्ट डोस (DOS)' के लिए ओपरेटिंग सिस्टम शेल की तरह काम करता था। इसके बाद कुछ सालों में ही विंडोस ने समस्त दुनिया के पर्सनल कंप्यूटर मार्किट में पूरी तरह कब्ज़ा कर लिया था। पर्सनल कंप्यूटर के 90% शेयर विंडोज के नाम थे, माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने अभूतपूर्व वित्तीय सफलता प्राप्त कर ली थी।

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के सबसे बड़े शेयर होल्डर बिल गेट्स थे, तो कंपनी के सफल होने का पूरा फायदा बिल गेट्स को मिलता गया। बिल गेट्स ने इस कंपनी से एक बड़ी राशी अपने नाम कर ली थी, जिस वजह से 1987 में पहली बार वे दुनिया के सबसे अमीर आदमियों की लिस्ट में भी शामिल हो गए थे। महज 11 साल के करियर में इतनी बड़ी उपलब्धि बिल गेट्स ने अपने नाम की।

1990 के दशक में जब इन्टरनेट पूरी दुनिया में एक मकड़ी के जाले की तरफ फ़ैल रहा था, तब बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट में ध्यान दे रहे थे, और उसके विकास के लिए तेजी से कार्य कर रहे थे, ताकि वे अपने उपभोक्ता को इन्टरनेट के द्वारा सॉफ्टवेयर का समाधान दे सकें, 'विंडोस CE ओपरेटिंग सिस्टम प्लेटफार्म' और 'दी माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क' उस समय के महान डेवलपमेंट में से एक थे, 2014 में बिल ने चेयरमैन पद से भी इस्तीफा दे दिया।

सामाजिक कार्य (Bill Gates Social Work)

बिल गेट्स उनकी पत्नी मेलिंडा गेट्स ने मिलकर 2000 में गरीब असहाय और जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए 'बिल गेट्स मेलिंडा फाउंडेशन' की स्थापना की। उनका यह फाउंडेशन आज विश्व के सबसे बड़ी चैरिटी संस्थानों में से एक है। इसके अलावा बिल गेट्स ने 2010 में विश्व के सबसे बड़े निवेशक वॉरेन बफेट और फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग के साथ मिलकर एक अग्रीमेंट साइन किया। जिसके तहत वे अपनी कमाई का आधा हिस्सा दान में दिया करेंगे। इसके अलावा वे हर साल भारत में आकर देश के गरीब बच्चों की सहायता करते हैं। उनकी जरूरत के मुताबिक उन्हें उचित सुविधाएं उपलब्ध करवाते हैं।

बिल गेट्स के पुस्तक (Bill Gates Books)

  • आगे की योजना
  • बिजनेस द स्पीड ऑफ थॉट

पुरस्कार और सम्मान (Bill Gates The Honour)

  • नेशनल मेडल ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन
  • लास्कर-ब्लूमबर्ग पब्लिक सर्विस अवार्ड।
  • बांबी, मिलेनियम अवार्ड।
  • सिल्वर बफेलो अवार्ड।
  • एंटरटेनमेंट न्यू मीडिया के लिए उत्कृष्ट योगदान के लिए सैटेलाइट स्पेशल अचीवमेंट अवार्ड।
  • ब्रिटिश कंप्यूटर सोसाइटी के प्रतिष्ठित साथीविज्ञान में उपलब्धि के लिए बोवर पुरस्कार।
  • बिजनेस लीडरशिप के लिए बोवर अवार्ड।
Next Story
Share it