Janskati Samachar

Kajol Biography in Hindi | काजोल का जीवन परिचय

Kajol Biography in Hindi | काजोल देवगन मुखर्जी जो की फिल्म जगत में वह काजोल नाम से जानी जाती हैं। एक भारतीय बॉलीवुड के जानी-मानी अभिनेत्री हैं। उन्होंने बॉलीवुड की कई बेहतरीन फिल्मों में अभिनय किया और अपनी अलग पहचान बनाई।

Kajol Biography in Hindi | काजोल का जीवन परिचय
X

Kajol Biography in Hindi | काजोल का जीवन परिचय

  • वास्तविक नाम काजोल मुखर्जी देवगन
  • जन्म 5 अगस्त 1974
  • जन्मस्थान मुबई, महाराष्ट्र, भारत
  • पिता शोमू मुखर्जी (फिल्म निर्माता)
  • माता तनुजा (अभिनेत्री)
  • पति अजय देवगन
  • पुत्र युग
  • पुत्री न्यासा
  • व्यवसाय अभिनेत्री
  • डेब्यू बेखुदी (1992)
  • नागरिकता भारतीय

बॉलीवुड अभिनेत्री काजोल (Kajol Biography in Hindi)

Kajol Biography in Hindi | काजोल देवगन मुखर्जी जो की फिल्म जगत में वह काजोल नाम से जानी जाती हैं। एक भारतीय बॉलीवुड के जानी-मानी अभिनेत्री हैं। उन्होंने बॉलीवुड की कई बेहतरीन फिल्मों में अभिनय किया और अपनी अलग पहचान बनाई। काजोल अब तक के अपने फ़िल्मी सफर में 6 फिल्मफेयर अवार्ड अपने नाम कर चुकीं हैं जो की एक रेकॉर्ड हैं। और कई कंपनियो की ब्रांड अंबासडर रह चुकी हैं। 2011 में भारत सरकार ने उन्हें भारत के चौथे सर्वोच्च अवार्ड "पद्म श्री" से सम्मानित किया था।

काजोल का प्रारंभिक जीवन और परिवार (Kojal Early Life & Family)

काजोल का जन्म 5 अगस्त 1974 को मुंबई, महारष्ट्र में हुआ। वह एक फ़िल्मी परिवार से ताल्लुकात रखतीं हैं। उनके पिता शोमू मुखर्जी एक फिल्म डायरेक्टर और प्रोड्यूसर और उनकी माता तनूजा एक एक्ट्रेस है। काजोल की एक बहन हैं तनीषा मुखेर्जी जोकि एक अभिनेत्री हैं। काजोल एक्ट्रेस नूतन की भांजी भी हैं और उनकी नानी शोभा समर्थ और परदादी रतन बाई दोनों ही हिंदी सिनेमा से जुडी हुयी थी।

2008 में कार्डियक अरेस्ट आने की वजह से उनके पिता शोमू की मृत्यु हो गयी थी। उनके पैतृक अंकल जॉय मुखर्जी और देब मुखर्जी, दोनों फिल्म प्रोड्यूसर थे जबकि पैतृक दादा सशाधर मुखर्जी एक फिल्मनिर्माता थे। काजोल के भाई-बहनो में रानी मुखर्जी, शर्बानी मुखर्जी और मोहनीश बेहल शामिल है, जो सभी बॉलीवुड में शामिल है।

काजोल की शिक्षा (Kojal Education)

काजोल ने पंचगनी की सेंट जोसफ कॉन्वेंट बोर्डिंग स्कूल से प्राथमिक शिक्षा ग्रहण की थी। पढाई के अलावा वह स्कूल के दिनों में दूसरी गतिविधियों में भी हिस्सा लेती थी, उन्हें डांस करना बहुत पसंद था। स्कूल के दिनों से ही काजोल को पढने और एक्टिंग का काफी शौक था। इसके बाद उन्होंने एक्टिंग के क्षेत्र में राहुल रवैल की फिल्म बेखुदी में काम करना शुरू किया। छुट्टियों में फिल्म की शूटिंग पूरी करने के बाद काजोल वापिस स्कूल आ गयी। इसके बाद एक्टिंग में ही फुल-टाइम करियर बनाने के लिये उन्होंने पढाई छोड़ने की ठानी।

काजोल का निजी जीवन (Kojal Personal Life)

1995 में जब गुंडाराज की शूटिंग कर रहे थे तभी काजोल ने एक्टर अजय देवगन को डेट करना शुरू किया और दोनों एक दूजे से प्यार करने लगे थे। दोनों का रंग अलग अलग होने की वजह से मीडिया के कुछ लोग उनकी काफी आलोचना भी कर रहे थे।

24 फरवरी 1999 को उन दोनों ने शादी कर ही ली। जिस समय काजोल की शादी हुई थी उस समय वह बॉलीवुड की लीडिंग एक्ट्रेस में शुमार थीं। आलोचकों का कहना था कि शादी के बाद काजोल का करियर पूरी तरह खत्म हो जायेगा पर ऐसा नहीं हुआ। काजोल ने फिल्मों में काम करना जारी रखा। शादी के बाद उनकी फिल्म "कभी ख़ुशी कभी गम" (2001) ब्लॉकबस्टर हिट हुई। काजोल के दो बच्चे हैं : न्यासा और युग।

काजोल का फ़िल्मी करियर (Kojal Filmy Career)

काजोल ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत महज़ 16 साल की उम्र में ही कर दी थी। उनकी पहली बॉलीवुड डेब्यू फिल्म बेखुदी (1992) थी।

1993 में काजोल अब्बास मस्तान की फिल्म "बाजीगर" में नज़र आई। इस फिल्म में उनके साथ शाहरुख़ खान और शिल्पा शेट्टी भी थे। काजोल की यह कॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई और फिल्म में लोगों को शाहरुख़-काजोल की जोड़ी बेहद फेमस बनी।

1995 में काजोल की दो फ़िल्में बैक टू बैक हिट हुई, शाहरुख खान के साथ "दिलवाले दुल्हनियाँ ले जायेंगे (DDLJ)", और सलमान खान और शाहरुख़ खान के साथ करण-अर्जुन की. फिल्म DDLJ के लिए काजोल को बेस्ट एक्ट्रेस फिल्म अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह इतनी बड़ी हिट फिल्म थी की इसे मुंबई के एक सिनेमाघर में लगातार 1000+ सप्ताह तक लगे रहने का रिकॉर्ड है।

1997 में फिल्म "गुप्त" में, नकारात्मक भूमिका के लिए उन्हें फिल्मफेयर पुरस्कार से नवाजा गया। वह ऐसा करने वाली वह पहली भारतीय अभिनेत्री बनीं।

उसके बाद सलमान खान के साथ "प्यार किया तो डरना क्या" (1998), "प्यार तो होना ही था" (1998), "कुछ कुछ होता है" (1998) और "कभी ख़ुशी कभी गम" (2001) फिल्मे की।

2001 के बाद कुछ समय तक फिल्मो से दूर रहने के बाद 2006 में उन्होंने आमिर खान के साथ फिल्म "फना" की और फिर अजय देवगन के साथ ड्रामा फिल्म "यु, मी और हम" (2008) की।

2010 में "माय नेम इस खान" और "वी आर फॅमिली" की। लम्बे अरसे के बाद रोहित शेट्टी निर्देशित फिल्म "दिलवाले" (2015) में काजोल और शाहरुख़ खान की जोड़ी सिल्वर स्क्रीन पर नज़र आई। फिल्म में वरुण धवन और कृति सेनन भी अहम भूमिका में थे। ये फिल्म भी सुपर हिट रही। ऐसे तो सिल्वर स्क्रीन पर काजोल-शाहरुख़ की जोड़ी ने हमेशा हिट फ़िल्में दी हैं।

ऐसा सुना जाता है कि फिल्म "3 इडियट" (2009) के लिए भी काजोल को ऑफर मिला था, परंतु उन्होंने किसी कारणवश इस फिल्म में किरदार करने से मना कर दिया था और इस फिल्म को करीना कपूर ने किया था।

अवार्ड्स और सन्मान (Kojal Awards and Honors)

  • काजोल अपने फिल्मी करियर में 6 बार बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड्स जीती।
  • 2008 में उन्हें सामाजिक कार्य के लिए "कर्मवीर पुरस्कार" से सम्मानित किया गया।
  • 2010 में NASDAQ द्वारा काजोल और शाहरुख खान को अमेरिकी शेयर बाजार में आमंत्रित किया गया और ऐसा करने वाले वे पहले भारतीय कलाकार बने।
  • 2011 में उन्हें भारत सरकार द्वारा "पद्मश्री" पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
Next Story
Share it