Top
Janskati Samachar

Nita Ambani Biography in Hindi | नीता अंबानी की जीवनी

Nita Ambani Biography in Hindi | नीता अंबानी भारत की एक प्रसिद्ध महिला उद्योगपति है, वो रिलायंस के डिरेक्टर और सह फाउंडर मुकेश अंबानी की पत्नी है। वो प्रसिद्ध बिज़नेस मेन धीरूभाई अंबानी की पुत्रबधु है, और धीरुभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल की फाउंडर भी है, नीता अंबानी भारत की सबसे धनी महिला है।

Nita Ambani Biography in Hindi | नीता अंबानी की जीवनी
X

Nita Ambani Biography in Hindi | नीता अंबानी की जीवनी

Nita Ambani Biography in Hindi | नीता अंबानी की जीवनी

  • पूरा नाम नीता अंबानी
  • जन्म 1 नवंबर 1963
  • जन्मस्थान मुंबई, भारत
  • पिता रविंद्रभाई दलाल
  • माता पूर्णिमा दलाल
  • पति मुकेश अंबानी
  • पुत्र अनंत अंबानी
  • पुत्री ईशा अंबानी
  • शिक्षा इकनोमिक,ग्रेजुएशन
  • व्यवसाय अध्यक्ष
  • पुरस्कार समाज सेवा विश्व भूषण
  • राष्ट्रीयता भारतीय

भारतीय महिला उद्योगपति नीता अंबानी (Nita Ambani Biography in Hindi)

नीता अंबानी भारत की एक प्रसिद्ध महिला उद्योगपति है, वो रिलायंस के डिरेक्टर और सह फाउंडर मुकेश अंबानी की पत्नी है। वो प्रसिद्ध बिज़नेस मेन धीरूभाई अंबानी की पुत्रबधु है, और धीरुभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल की फाउंडर भी है, नीता अंबानी भारत की सबसे धनी महिला है। नीताने गरीब और निसहाय बच्चों को पढ़ाने के लिए अनेक स्कूलों का निर्माण किया हैं।

प्रारभिक जीवन (Nita Ambani Early Life)

नीता का जन्म 1 नवम्बर, 1963 को मुंबई में मध्यम वर्ग परिवार में हुआ था। उनके पिता भारत की मशहूर कंपनी बिरला में उच्च पद पर कार्यरत थे। और उनकी माता एक गृहिणी थी, नीता की मां नीता को एक चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) बनाना चाहती थीं, लेकिन उनके भाग्य कुछ और ही था।

शिक्षा (Nita Ambani Education)

नीता ने शुरूआती शिक्षा रोज मैनर गार्डन स्कूल से की, बाद में नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स एंड इकनोमिक से बेचलर किया। नीता अंबानी ने इंटीरियर डिज़ाइनर का भी कोर्स किया था। Nita Ambani Biography in Hindi

निजी जीवन (Nita Ambani Married Life)

नीता अंबानी की शादी भारत के विख्यात बिजनेसमैन मुकेश अंबानी से हुई हे। बाद में उन दोनों कपल को तीन बच्चे हुए, दो बेटे आकाश अंबानी और अनंत अंबानी और एक बेटी ईशा अंबानी।

नीता की भरतनाट्यम नृत्य की रुचि (Nita Ambani Bharatanatyam Dance)

नीता का जन्म एक गुजराती परिवार में होने से उनको संगीत में हमेशा रूचि रही है, गुजरात में संगीत और नृत्य हमेशा पसंद किए जाते हैं। नीता की माता एक गुजराती लोक संगीत से जुडी हुई थी, इसीलिए नीता को बचपन में उनकी मां ने नृत्य सिखाना शुरू कर दिया था। साथ में नीता को भी नृत्य और संगीत में बहुत रुचि लगने लगी। बचपन में नीता भरतनाट्यम के लिए बहोत प्रसिद्ध हो गईं थी।

धीरूभाई से नीता की मुलाकात (Dhirubhai Ambani Meets Neeta)

बचपन में नीता पूरे गुजरात में अपने नृत्य के लिये बहुत प्रख्यात हो गई थीं। इसके चलते उनके प्रदर्शनों में से एकबार धीरूभाई ने भी उनका नृत्य देखा। वो नृत्य नीता बहोत शानदार तरीके से रजु किया, इससे चलते धीरू भाई ने नीता में भारतीय परंपरा के साथ एक अद्भुत दृश्य देखा। इस नृत्य नीता के जीवन का टर्निंग पॉइंट साबित हुआ। नीता के इस नृत्य से प्रभावित धीरूभाई अंबानी ने इस नृत्य के संस्था से नीता का परिचय जाना।

बाद में धीरूभाई ने के नीता परिवार को फोन किया। लेकिन फ़ोन खुद नीता ने ही उठाए, धीरूभाई ने अपने अंदाज से कहा की में धीरूभाई अंबानी बोल रहा हु, उस आवाज़ सुनते ही नीता विचलित हो गई और कहा की में एलिजाबेथ टेलर बोल रही हु। बाद में नीता को लगा था की कोई मज़ाक कर रहा है यह सोचकर फ़ोन काट दिया। बाद में धीरूभाई ने फिर से कॉल किया और इस टाइम उनके पिता ने कॉल उठाया था और धीरूभाई की आवाज़ पहचान लिया।

बाद में नीता के पिता ने धीरूभाई अम्बानी को मिलने के लिए उनके घर बुलाया। नीता के घर आकर जाकर धीरूभाई ने नीता को कई सवाल लिए जैसे के उनके शोक, खाना पकाना, उनके कौशल। मुकेश अंबानी भी नीता को देखना चाहते थे इसीलिए बाद में धीरूभाई ने नीता को अपने घर आने के लिया आमंत्रित भी किया। और मुकेश की पत्नी के रूप में अपने पुत्रवधु बनाने की बात राखी। यह बात खुद नीता ने ही मीडिया के इंटरव्यू के जरिए बताया था।

जब नीता धीरूभाई के घर आई तब उनके घर का द्वार खुद मुकेश ने ही खोला, मुकेश ने तुरंत नीता को पहचान लिया क्योकि धीरूभाई घर नीता के बारे में कई बार चर्चा कर चुके थे। बाद में परिवार के साथ चर्चा के बाद मुकेश ने बहार अकेले मिलने के लिए कहा और वो दोनों बहार अकेले मिलने लगे।

एकदिन मुकेश जब रोड से निकल रहे थे तब नीता को देखकर अचानक कार रोक दिया और ट्राफ़िल होने के बावजूद उन्होंने अपनी कर नहीं चलाई। इस समय रोड पे ट्रैफिक के होते हुई मुकेश अंबानी ने नीता से प्रपोज़ किया। उन्होंने कहा की जब तक तुम हां नहीं कहोगी तबतक में कार नहीं चलाऊंगा, बाद में नीता ने है कहा और कुछ समय के बाद नीता की मुकेश अंबानी से शादी हुई।

व्यावसायिक करियर (Nita Ambani Business Career)

2014 में नीता अंबानी को रिलायंस इंडस्ट्रीज बोर्ड के गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप कार्य संभाला था। नीता मुंबई में शैक्षणिक स्कूल धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल के संस्थापक और डिरेक्टर के रूप में कार्य कर रही है। वो अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की सभ्य पद प्राप्त करने वाली भारत की प्रथम महिला है।

फिलहाल वो भारतीय क्रिकेट के मशहूर लीग IPL के मुंबई टीम की सहमालिक हैं। नीता अंबानी ने हमेशा सामाजिक समस्यायों में बहुत दिलचस्पी ली है। वह सामाजिक कार्य के लिए मुंबई में धीरूभाई इंटरनेशनल स्कूल भी चला रही है। वो एक शास्त्रीय नर्तकी भी है, और सामाजिक कार्य के उद्देश्य से मुंबई में उन्होंने मुकेश अंबानी से एक अस्पताल भी खुलवाई हे, जिसका नाम 'कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल' रखा गया। Kokilaben Dhirubhai Ambani Hospital

सामाजिक कार्य (Nita Ambani Social Work)

नीता अंबानी बहोत बड़े बिज़नेस वीमेन होने बावजूद सामाजिक कार्य के लिए भी जनि जाती है। उन्होंने समाज की भले के लिए बहोत सामाजिक संस्थाए भी खुलवाई है जैसे की मरीजों के लिए अस्पताल, अनाथ और गरीब बच्चो के किये स्कूल और महिलाओ के लिए बहोत संस्था स्थापित किये हुए है। भारत के सबसे अमीर व्यक्ति के पत्नी होने के ने बावजूद उनमे जरा सा भी घमंड नहीं है।

पुरस्कार और सम्मान (Nita Ambani Awards)

  1. 2005 में 'समाज सेवा विश्व भूषण' की उपाधि से सम्मानित किया गया।
  2. 2008 में 'जेंट इंटरनेशनल अवार्ड' मिला।
  3. 2010 में 'हेलो पत्रिका का हॉल ऑफ़ फेम अवार्ड' मिला।
  4. 2011 में 'बिज़नेस की सबसे प्रभावशाली महिला' का पुरस्कार।
  5. 2012 में 'कारपॉरेट सिटिजन ऑफ द इअर' का पुरस्कार मिला है।
  6. 2013 में 'लाइफ स्टाइल आइकॉन ऑफ़ द इयर 2013′ का पुरस्कार।
  7. 2015 में '2015 की सबसे धनि महिला' का पुरस्कार।
  8. 2015 में 'भारत की सबसे प्रभावशाली महिला' का पुरस्कार।
  9. 2015 में '2015 की सबसे प्रभावशाली महिला उद्योगपति' का पुरस्कार।
Next Story
Share it