Top
Janskati Samachar

Ravindra Jadeja Biography in Hindi | रविन्द्र जडेजा का जीवन परिचय

Ravindra Jadeja Biography in Hindi | रविन्द्र जडेजा भारतीय क्रिकेट टीम के एक शानदार ऑलराउंडर हैं और क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में पिछले 10 सालों से भारतीय टीम के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर जडेजा वर्तमान समय में भारतीय टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक है जो ICC प्लेयर रैंकिंग मे टेस्ट के नंबर एक बॉलर भी रह चुके है।

Ravindra Jadeja Biography in Hindi | रविन्द्र जडेजा का जीवन परिचय
X

Ravindra Jadeja Biography in Hindi | रविन्द्र जडेजा का जीवन परिचय

  • नाम रवींद्रसिंह अनिरुद्धसिंह जडेजा
  • जन्म 6 दिसंबर 1988
  • जन्मस्थान जामनगर
  • पिता अनिरुद्धसिंह जडेजा
  • माता लता जडेजा
  • पत्नी रीवा सोलंकी
  • बेटी निध्याना
  • शिक्षा बी.टेक
  • व्यवसाय क्रिकेटर
  • राष्ट्रीयता भारतीय

भारतीय क्रिकेटर रविन्द्र जडेजा (Ravindra Jadeja Biography in Hindi)

Ravindra Jadeja Biography in Hindi | रविन्द्र जडेजा भारतीय क्रिकेट टीम के एक शानदार ऑलराउंडर हैं और क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में पिछले 10 सालों से भारतीय टीम के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर जडेजा वर्तमान समय में भारतीय टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक है जो ICC प्लेयर रैंकिंग मे टेस्ट के नंबर एक बॉलर भी रह चुके है। वे ऑल राउंडर है, जो बाए हात की मध्यक्रम बल्लेबाजी और बाए हात की ऑर्थोडॉक्स गेंदबाजी करते है।

प्रारंभिक जीवन (Ravindra Jadeja Early Life)

रविन्द्र जडेजा का जन्म 6 दिसंबर 1988 को गुजरात के जामनगर में हुआ था। उनके पिताजी चाहते थे की वे एक आर्मी ऑफिसर बने लेकिन उनकी रूचि क्रिकेट खेलने में थी।

उनके पिता अनिरुद्ध सिंह जडेजा आर्मी में थे। लेकिन एक बार गंभीर रूप से घायल हो जाने के कारण उन्हें आर्मी छोड़नी पड़ी। बाद में उन्होंने एक प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी कर ली।

रविन्द्र जडेजा जब मात्र 17 साल के थे तभी इनकी माताजी की मृत्यु हो गई थी। जडेजा उन्हें बहुत मानते थे और उनकी मृत्यु के कारण इतना दुखी हो गए थे कि उन्होंने क्रिकेट से भी दूरी बनानी भी शुरू कर दी थी। ऐसे कठिन समय में उनकी बड़ी बहन नैना ने उनको सहारा दिया और संभाला, परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए उनकी बड़ी बहन नर्स बन गईं।

निजी जिंदगी (Ravindra Jadeja Personal Life)

17 अप्रैल 2016 को रवींद्र जडेजा ने रीवा सोलंकी से शादी की। जडेजा की एक बेटी है जिसका नाम निध्याना है। रीवा सोलंकी राजनीती से जुड़ चुकी है। इन्होने 2019 में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता हासिल की थी। रीवा अब समाज सेवा से जुड़े कई कार्य करती हैं।


प्रथम श्रेणी क्रिकेट (Ravindra Jadeja First Class Cricket)

रविंद्र के प्रथम श्रेणी के कैरियर की शुरुआत 2006-07 दिलीप ट्रॉफी से हुई थी जिसमें वह पश्चिमी क्षेत्र के लिए खेले थे। वह रणजी ट्रॉफी में सौराष्ट्र क्षेत्र के लिए भी खेलते हैं।

2012 में, 23 साल की उम्र में, वह अपने क्रिकेट करियर में तीन बार तिहरा शतक लगाने वाले आठवें खिलाड़ी और भारतीय क्रिकेट के इतिहास में ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने। उनका पहला शतक उड़ीसा के खिलाफ था जिसमें उन्होंने 375 गेंदों पर 314 रन बनाए। उनका दूसरा शतक गुजरात के खिलाफ था जिसमें उन्होंने 303 रन बनाए। उनका तीसरा शतक रेलवे के खिलाफ था जिसमें उन्होंने 501 गेंदों में 331 रन बनाए थे।

अन्डर-19 करियर (Ravindra Jadeja Under 19 Career)

जडेजा ने 16 साल की उम्र में 2005 में अंडर-19 क्रिकेट से अपने क्रिकेट करियर की शुरुवात की। 2006 में श्री लंका में आयोजित अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप की टीम में उन्हें शामिल किया गया था। इसमें भारतीय टीम उपविजेता बनी थी, जिसके फाइनल मैच में रविन्द्र जडेजा ने पाकिस्तान के खिलाफ 2 विकेट चटकाए थे।

इसके साथ ही 2008 में अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वाली विजयी भारतीय टीम के वे उपकप्तान थे। 2008 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, उन्होंने इस टूर्नामेंट में 6 मैचों में13 के औसत से 10 विकेट लिए।

आईपीएल में जडेजा (Ravindra Jadeja IPL Career)

जड़ेजा को 2008 में आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल में चुना गया और जडेजा ने राजस्थान रॉयल की तरफ से काफी शानदार खेल दिखाया। टीम के कप्तान शेन वार्न ने उनकी काफी तारीफ की और इन्होने अपनी टीम को फाइनल जिताने में अहम भूमिका निभाई। उसके बाद रविन्द्र ने कोच्चि, गुजरात लायंस और वर्तमान में वे चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से भी आईपीएल खेला।

2012 में आईपीएल प्लेयर ऑक्शन में रविन्द्र जडेजा को चेन्नई सुपर किंग्स ने 2 मिलियन डॉलर देकर ख़रीदा था। चेन्नई सुपर किंग्स को पर 2 साल का आईपीएल बैन लगने के बाद 2016 के आईपीएल प्लेयर ऑक्शन में गुजरात लायंस ने उन्हें 9.5 करोड़ देकर ख़रीदा।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर (Ravindra Jadeja International Cricket Career)

8 फरवरी 2009 को उन्होंने श्री लंका के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट में डेब्यू किया और अपने पहले ही मैच में उन्होंने 77 गेंदों में नाबाद 60 रन बनाए। जबकि टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने चार साल बाद 13 दिसम्बर 2012 को नागपुर में इंग्लैंड में डेब्यू किया था।

22 जनवरी 2017 को जडेजा ने जब कोलकाता के ईडन गार्डन पर सैम बिल्लिंग्स को आउट किया तब वे अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में 150 विकेट लेने वाले पहले भारतीय लेफ्ट-आर्म स्पिनर बने। इसके बाद मार्च 2017 में वे लम्बे समय तक टॉप पर रह रहे बॉलर रविचंद्रन अश्विन को पछाड़कर विश्व के नंबर 1 गेंदबाज बने। Ravindra Jadeja Biography in Hindi

वह अपने 49 टेस्ट मैचों में अब तक 35.26 की औसत से 1869 रन बना चुके हैं। साथ ही 24.62 की शानदार गेंदबाजी औसत से कुल 213 विकेट भी उन्हें टेस्ट क्रिकेट में हासिल हुए हैं।

165 वनडे मैचों में वह 31.88 की औसत से 2296 रन बना चुके हैं. साथ ही उन्होंने 4.89 की इकॉनामी रेट से 187 विकेट भी हासिल किये हैं।

भारत के लिए खेले 49 टी-20 मैचों में इन्होने 12.35 की औसत से 173 रन बनाए हुए हैं. साथ ही 7.10 की इकॉनामी रेट से 39 विकेट भी हासिल किये हुए हैं।

2009 के ICC वर्ल्ड टी20 इवेंट में उनके प्रदर्शन के बाद जडेजा को लेकर क्रिकेट पोर्टल और सोशल मीडिया साइट्स पर काफी जोक्स बनाए जाते है। फरवरी 2013 में जब जडेजा 16 रन पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बिना कोई शॉट खेले ही क्लीन बोल्ड हो गये थे, तब क्रिकेट पोर्टल ने उनके आउट होने को इस कदर विश्लेषित किया।

2013 में सुनील गावस्कर ने मार्च मीडिया के सामने रविन्द्र जडेजा और चेतेश्वर पुजारा को भारतीय युवा क्रिकेटर का रोल मॉडल बताया था। 2013 में फरवरी-मार्च में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गयी टेस्ट सीरीज में भारत ने 4-0 से जीत दर्ज की, जिसमे मीडिया के सामने गावस्कर ने जडेजा को जीत का आर्किटेक्ट बताया था।

साथ ही इस श्रुंखला में जडेजा क्लार्क पर पूरी तरह से हावी रहने जिसमे उन्होंने क्लार्क को 6 में से 5 बार आउट किया। इस वजह से मीडिया ने जडेजा को उस समय का प्लेयर ऑफ़ दी वीक भी घोषित किया।

रिकॉर्ड (Ravindra Jadeja Records)

अनिल कुंबले के बाद रवींद्र पहले ऐसे भारतीय गेंदबाज बने जब उन्हें आईसीसी की एकदिवसीय गेंदबाजी श्रेणी में प्रथम स्थान पर रखा गया।

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में तीन तिहरे शतक बनाने वाले वह एकमात्र भारतीय खिलाड़ी हैं।

विवाद (Ravindra Jadeja Controversy)

  • जुलाई 2013 में, वेस्टइंडीज के खिलाफ एक मैच के दौरान रवींद्र और सुरेश रैना के मध्य काफी कहासुनी हुई। जब जडेजा की गेंदबाजी पर रैना ने दो कैचों को छोड़ दिया था।
  • वर्ष 2014 में, भारत के इंग्लैंड दौरे पर रवींद्र और जेम्स एंडरसन (इंग्लैंड प्लेयर) के बीच काफी कहासुनी हुई।
Next Story
Share it