Top
Janskati Samachar

क्या है RTGS? और क्या हैं RTGS से मनी ट्रांसफर करने के फायदे? जानिए RTGS का फुल फॉर्म

सबसे पहले आपको बता दें कि RTGS का फुल फॉर्म Real Time Gross Settlement System है. RTGS के माध्यम से ऑनलाइन आप आपके बैंक अकाउंट से किसी दूसरे बैंक अकाउंट में मनी ट्रांसफर (Online Money Transfer) कर सकते हैं.

क्या है RTGS? और क्या हैं RTGS से मनी ट्रांसफर करने के फायदे? जानिए RTGS का फुल फॉर्म
X

क्या है RTGS? और क्या हैं RTGS से मनी ट्रांसफर करने के फायदे? जानिए RTGS का फुल फॉर्म

हेलो दोस्तों ! बदलती टेक्नोलॉजी के साथ ही अब लोगों का मनी को यूज़ करने का तरीका भी बदल गया है. आजकल सभी ऑनलाइन पेमेंट से लेकर ऑनलाइन ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने लगे हैं. ऑनलाइन मनी ट्रांसफर के लिए RTGS सबसे अधिक चर्चित तरीका है. पहले RTGS का उपयोग उपभोक्ता एक नियमित समय के अनुसार कर सकते थे. लेकिन इसे लेकर RBI यानि रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने निर्देश जारी किया है कि RTGS के माध्यम से आप 24 घंटे पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं. यदि आप भी RTGS के बारे में नहीं जानते हैं तो चलिए बताते हैं आपको विस्तार से :

क्या है RTGS ? (What Is RTGS?) :

सबसे पहले आपको बता दें कि RTGS का फुल फॉर्म Real Time Gross Settlement System है. RTGS के माध्यम से ऑनलाइन आप आपके बैंक अकाउंट से किसी दूसरे बैंक अकाउंट में मनी ट्रांसफर (Online Money Transfer) कर सकते हैं. RTGS का उपयोग आमतौर पर बड़े फंड को ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है. यदि आपको 2 लाख या इससे अधिक का फंड ऑनलाइन ट्रांसफर करना हो तो आपको इसे RTGS के माध्यम से करना होता है. यह भी बता दें कि इससे 2 लाख रुपए से कम के ट्रांजेक्शन नहीं किए जा सकते हैं.


जानिए RTGS के माध्यम से फंड ट्रांसफर करने के फायदे :

  • 1. RTGS से फंड ट्रांसफर में अधिक समय नहीं लगता है.
  • 2. इसके माध्यम से बड़ी से बड़ी रकम को भी आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं.
  • 3. ऑनलाइन के साथ ही इसका उपयोग आप ऑफलाइन यानि बैंक की ब्रांच में जाकर भी कर सकते हैं.
  • 4. इस सुविधा का लाभ आप अब दिन के किसी भी समय ले सकते हैं.
  • 5. RTGS से फंड ट्रांसफर करने पर कोई भी शुल्क नहीं लगता है.

RTGS से जुड़ी और भी कई बातें :

गौरतलब है कि साल 2004 में तीन बैंकों के साथ RTGS सर्विस को शुरू किया गया था. सेंट्रल गवर्नमेंट या केंद्र सरकार के द्वारा मनी ट्रांजेक्शन को बढ़ाना देने और इसका डिजिटलीकरण करने के लिए इस अभियान को शुरू किया गया था. इस सर्विस के शुरू होने के बाद से ही यह भी देखने को मिला है कि ऑनलाइन लेनदेन में तेजी आई है. आजकल हम सभी ज्यादातर फाइनेंसियल मामलों में ऑनलाइन फंड ट्रांसफर का ही सहारा लेते हैं.

यह बात तो हम जानते ही हैं कि 2 लाख रुपए से अधिक के ट्रांसफर के लिए RTGS ही बेस्ट है, इसमें आप 2 लाख से कम का अमाउंट भी ट्रांसफर नहीं कर सकते हैं. साथ ही आपको यह भी बता दें कि RTGS से फंड ट्रांसफर किए जाने पर कोई चार्ज नहीं देना पड़ता है.

एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे ट्रांसफर करने के कई तरीके हैं, लेकिन इनमें जो जरीके सबसे अधिक पॉपुलर हैं वे हैं RTGS, NEFT और IMPS. कुछ समय पहले ही NEFT यानि National Electronic Fund Transfer को भी 24 घंटे के लिए शुरू किया गया था. जिसके बाद अब RTGS को भी 24 घंटे के लिए शुरू किया गया है. बता दें कि National Electronic Fund Transfer यानि NEFT के जरिए 2 लाख रुपए से कम का ट्रांजेक्शन किया जा सकता है.

RTGS के बारे में ही एक और बात बता दें कि यह पैसे ट्रांसफर करने की सबसे तेज सर्विस है. जी हां, जहां पहले केवल 4 बैंक ही RTGS से फंड ट्रांसफर करने की सुविधा देते थे तो वहीं फ़िलहाल की बात करें तो वर्तमान में इस सर्विस से डेली करीब 6.35 लाख करोड़ रुपए का ट्रांजेक्शन होता है. और अब देश के करीब 237 बैंक इसके माध्यम से 4.17 लाख करोड़ रुपए का डेली ट्रांजेक्शन करते हैं. जहां NEFT के माध्यम से मनी ट्रांसफर करने पर दूसरे अकाउंट में पैसा पहुंचने पर थोडा टाइम लगता है तो वहीं RTGS से तुरंत पैसा दूसरे अकाउंट में पहुंच जाता है.

Next Story
Share it