Janskati Samachar

असम: अंधविश्वास के नाम पर भीड़ ने की दो लोगों की हत्या, शवों को जलाने की कोशिश

60 साल की रामवती हलुआ (Ramawati Halua) और 28 साल के बिजॉय गौर को लोगों ने सिर्फ इसलिए लाठी-डंडों से पीट कर मार डाला, क्यों कि उन्हें महिला पर जादू-टोना ( Witchcreaft) करने का शक था, और युवक उसे बचाने वहां पहुंचा था.

असम: अंधविश्वास के नाम पर भीड़ ने की दो लोगों की हत्या, शवों को जलाने की कोशिश
X

असम (Assam) के कार्बी आंगलोंग जिले के रहीमपुर गांव में अंधविश्वास (Blind Faith) के चलते गांव वालों ने दो लोगों की पीट-पाीट कर हत्या कर दी. यह घटना बुधवार की है. 60 साल की रामवती हलुआ (Ramawati Halua) और 28 साल के बिजॉय (Bijoy Gaur) गौर को लोगों ने सिर्फ इसलिए लाठी-डंडों से पीटा क्यों कि, उन्हें महिला पर जादू-टोना ( Witchcreaft) करने का शक था, और युवक उसे बचाने वहां पहुंचा था, जिसके बाद कंगारू अदालत (Kangaroo Court) ने दोनों को मारने का फैसला किया. हत्या के बाद दोनों के शवों को पास की पहाड़ी के जंगलों में ले जाकर जला दिया गया.

जिला पुलिस अधीक्षक देबोजित देओरी ने मामले में तुरंत संज्ञान लिया और दोनों मृतकों के कुछ अवशेषों को बरामद कर रहीमपुर गांव के आस-पास से 9 लोगों को हिरासत (Arrest) में ले लिया. पुलिस लगातार सभी आरोपियों (Accuesd) से पूछताछ कर रही है.

जादू-टोना करने के शक में ग्रामीणों ने ली महिला की जान

पुलिस का कहना है कि कार्बी आंगलोंग जिले के रोहिमापुर इलाके में बीमारी की वजह से गांव की एक महिला की कुछ दिन पहले गुवाहाटी में इलाज के दौरान मौत हो गई थी, बुधवार को गांव में उसके लिए पोस्ट-डेथ पूजा रखी गई थी, जिसमें 50 साल की विधवा रामावती (Ramawati Halua) ने असामान्य व्यवहार करना शरू कर दिया. कुछ ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि रामावती जादू-टोना कर रही थी, वहीं कंगारू अदालत ने भी उसे डायन करार दिया और महिला को गांव के लोगों की बुरी किस्मत के लिए जिम्मेदार ठहराया, जिसके बाद भीड़ ने महिला को लाठी-डंडों से पीटना शुरू कर दिया.

हत्या के बाद शवों को जलाने की कोशिश

पुलिस ने कहा कि जब गांव के एक शिक्षित युवक 28 साल के बिजॉय गौर ने मामले में हस्तेक्षप किया और इसे अंधविश्वास बताया, तो गुस्साए ग्रामीणों ने उस पर भी हमला कर दिया. गुस्साई भीड़ ने दोनों को पीट-पीट कर मार डाला, और दोनों के शवों को पास की पहाड़ी पर ले जाकर जलाने की कोशिश की.

गुरुवार को सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जलती चिता से कुछ अवशेषों को बरामद किया, साथ ही पुलिस ने मिट्टी के कुछ नमूने भी लिए. पुलिस ने मारपीट में इस्तेमाल हथियारों के साथ गांव के 9 लोगों को गिरफ्तार किया है, उनसे लगातार पूछताछ की जा रही है.

Next Story
Share it