Top
Jan Shakti

बड़ी खबर: पीएम मोदी सवा घंटे में खाते हैं 44 लाख का खाना – पढ़े पूरी रिपोर्ट

बड़ी खबर: पीएम मोदी सवा घंटे में खाते हैं 44 लाख का खाना – पढ़े पूरी रिपोर्ट
X

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी कितना खबरों मे रहे हैं य तो किसी से छिपा नहीं है। वहीं देश के कामकाजों को अलग कर के उनका निजी तौर पर ही खबरों पर आने की बात करें तो मोदी कई बार विवादित मुद्दों को लेकर भी खबरों में आते रहते हैं। एक तरफ मोदी जहां खुद को गरीब परिवार से आने वाला कहते हैं तो वहीं दूसरी तरफ उनके कुछ ऐसे कारनामे भी हैं जो उनके बोल से बिल्कुल अलग हैं। दोस्तों आज हम आपको हमारे पीएम मोदी के कुछ ऐसे ही कारनामों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिसके बारे में आपको शायद ही जानकारी होगी। आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी की 1 घंटे 15 मिनट की साहेबगंज यात्रा के दौरान झारखंड सरकार ने ही 9 करोड़ रुपये खर्च कर दिए। इतना ही नहीं मोदी के एक समय के खाने के लिए ही 44 लाख रुपये तक खर्च कर दिए गए। 75 मिनट की मोदी की इस यात्रा के हिसाब की बात करें तो यह प्रति सेकेंड 20 हजार रुपये खर्च करने वाली प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा पर थी। अप्रैल में झारखंड के साहेब गंज पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा का खर्च का बिल भी झारखंड की बीजेपी सरकार ने प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमअो) को भेज दिया। जिसके जवाब में पीएमअो ने राज्य सरकार से खर्च की पूरी आॅडिट रिपोर्ट मांगी है। वहीं अब सोशल मीडिया पर भी लोग सवाल उठा रहे हैं कि अपने को हमेशा गरीब बताने वाले मोदी का यह राजशी अंदाज, इन्हें देश की भूखी जनता के बारे में खयाल क्यों नहीं आता?


44 लाख का खाना खा गए पीएम मोदी

राज्य सरकार की ओर से जो बिल पीएमओ को भेजा गया, उसमें 44 लाख रुपये का खर्च केवल खाने पीने की व्यवस्था पर ही खर्च हो गया। बताया गया है कि मोदी के आने से पहले जिला प्रशासन ने मुख्य सचिव के निर्देश पर शहर की सजावट करने का भी इंतजाम किया था। सड़काें की साफ सफाई कर उन्हें चमकाया गया था। कई हेलीपैड बनाए गए। मेहमानों के ठहरने से लेकर खाने-पीने और गाड़ियों के अलग से इंतजाम किए गए थे।


मोदी की यह यात्रा 20 हजार रूपए प्रति सेकेंड रही

सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर भी बहस छिड़ गई है कि एक तरफ प्रख्यात अर्थशास्त्री अर्जुन सेनगुप्ता कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक देश की 77 फीसदी आबादी 20 रूपए प्रतिदिन भी नहीं कमा पा रही है,वहीं दूसरी तरफ देश के प्रधानमंत्री मोदी फिजूलखर्ची करते हुए अपनी यात्राओं पर हर सेकेंड 20 हजार रूपए खर्च कर रहे हैं। एक आंकड़े के मुताबिक तो यह भी सामने आया है कि देश के 90 फीसदी किसान की खेती से कमाई 10 रूपए प्रतिदिन की भी नहीं है।खेती लगातार नुकसान ही बनती जा रही है और इसलिए किसान आत्महत्या कर रहा है। ऐसे देश में जिसके प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने एक टाइम भूखे रहकर जवानों और किसानों के सम्मान में एक मिसाल दी थी आज वहीं देश के प्रधानमंत्री अपने मंहगें खाने और महंगे सूट पहनने के लिए विवादों में आ रहे हैं।

किसानों के इस देश में प्रधानमंत्री की सवा घंटे की यात्रा पर लगाए जा रहे करोड़ों रुपये

आपको बता दें कि 6 अप्रैल को पीएम मोदी झारखंड की यात्रा पर थे, यहां उन्होंने साहेबगंज में गंगा नदी पर मल्टी-मॉडल टर्मिनल की सौगात दी थी, लेकिन यह बात शायद आपको नहीं पता होगी कि पीएम मोदी के इस दौरे पर 9 करोड़ रुपए लगा दि गए। एक तरफ जो भारतीय जनता पार्टी खुद को सिद्धांतवादी बताती है वहीं इस पार्टी के नेता के सवा घंटे के दौरे पर 9 करोड़ रुपए का पैसा लगा देना अपने आप में कई सवाल खड़े करता है।

Next Story
Share it