Top
Janskati Samachar

EXCLUSIVE: आखिर साबित हो ही गया भाजपा सांसद मनोज तिवारी मनुवादी रोग से पीड़ित हैं !

आखिर भाजपा सांसद मनोज तिवारी यह साबित कर दिया है की वह मनुवादी रोग से पूरी तरह ग्रस्त हैं। शिक्षिका के सामने गाना गाते समय आपको अपने सांसद होने का ख्याल था और एक एक्टेस के सामने घुटनों के बल गाते समय वो ख्याल कहां गया। दोहरा मापदंड नहीं चलेगा सर। कुछ महीने पहले की बात है। जब दिल्ली में भरी सभा थी। मंच सजा था। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने एक शिक्षिका को इसलिए अपमानित कर दिया था कि उसने गाने की फ़रमाइश कर दी थी। वो भी शिक्षिका ने अपने लिए नहीं, बच्चों को सुनाने के लिए उनसे विनम्र अनुरोध किया था। और इसलिए किया था कि मनोज की पहचान एक गायक कलाकार की भी रही है। मंच कैसा भी हो, कहीं भी हो, वे गुनगुनाने का मौक़ा नहीं छोड़ते।


इसीलिए टीचर ने फ़रमाइश कर दी थी। मगर, उस दिन शिक्षिका की बात सुनते ही दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज भरी सभा में भड़क जाते हैं। टीचर को सार्वजनिक रूप से। कैमरे के सामने फटकारते हैं। कहते हैं- शर्म नही आती कैसे एक सांसद से बात की जाती है हम क्या यहां गाना गाने आये है। बच्चों के सामने ही अपमानित होती शिक्षिका का वायरल वीडियो आँखों में पानी लाने वाला था।मगर उसी मनोज तिवारी की दोहरी मानसिकता को बेपर्दा करने वाली यह तस्वीर देखिए।घुटने के बल बैठकर अनुष्का के लिए गाने लगे गाना,एक शिक्षिका के सामने सांसद के प्रोटोकॉल का रोब झाड़ने वाले मनोज तिवारी यही बात बनारस में भूल गए। क्योंकि उन्हें शाहरुख़ और अनुष्का को इम्प्रेस करना था। बनारस में चंद रोज पहले बीते 31 जुलाई की घटना है।



दिल्ली के स्कूल फ़ंक्शन में सांसद के मर्यादा की दुहाई देने वाले मनोज बनारस में बिल्कुल सड़कछाप दिखे।घुटनों पर बैठ अनुष्का के लिए गाने गाते रहे। यही सांसद मनोज तिवारी टीवी पर चलने के लिए कभी बनारस में रिक्शा चलाकर गाने गाते चुनाव के दौरान नज़र आते हैं।तो यही मनोज कभी अपनी ही सरकार की नोटबंदी से परेशान जनता का मज़ाक़ उड़ाते हुए कैमरे में क़ैद होते हैं।शायद, भाजपा ने औक़ात से ज़्यादा दिया तो संभाले नहीं सँभल रहा। यही वजह है कि अक्सर हरकतों से पार्टी की किरकिरी कराने का कोई मौक़ा नहीं चूकते। है। जब योग्यता से ज़्यादा किसी को मिल जाता है, तब यही हाल होता है। एक तो मोदी लहर में सांसदी मिल गई दूजे दिल्ली की प्रदेश अध्यक्ष का पद।हम यह नहीं कहते कि सांसद बनने के बाद आप गायन छोड़ दीजिए। गाइए खूब गाइए।



क्योंकि इसी ने आपको पहचान दी। मगर सम्मानजनक मंच पर गाइए साहब, न कि एक अभिनेत्री के चरणों में इस क़दर लोटकर चरणवंदना कीजिए। यह शर्मनाक है। सनद रहे आप गवैया ही नहीं सांसद हैं। सांसद जी ने गाई लिपिस्टिक की महिमा तिवारी, भोजपुरी का हिट सॉन्ग "लगावेलु तू लिपस्टिक... हिलेला आरा डिस्ट्रिक्ट...इंडिया टॉप लागेलू... कमरिया करे लपालप... लॉलीपाप लगेलु..." गाते नजर आए। यह कार्यक्रम था फ़िल्म प्रमोशन हैरी मेट सेजल. खास बात है कि अमित शाह जहां भाजपा के सांसदों के सदन से गायब रहने पर परेशान रहते हैं। वही मनोज तिवारी अनुष्का के चक्कर में दिल्ली से ग़ायब होकर राष्ट्रीय अध्यक्ष को मुँह चिढ़ाते नज़र आए। नोट- मनोज के साथ घुटनों के बल शाहरुख़ भी हैं मगर वे सांसद नहीं सिर्फ एक्टर हैं, इस नाते उन्हें नज़रअंदाज़ किया।



Next Story
Share it