Top
Janskati Samachar

पूरे देश में गो-हत्या के खिलाफ बने कानून: भागवत

पूरे देश में गो-हत्या के खिलाफ बने कानून: भागवत
X

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने गो-हत्या के खिलाफ देशभर में एक कानून बनाने की वकालत की है. साथ ही उन्होंने निगरानी समूहों से पशुओं की रक्षा करते समय कानून का पालन करने के लिए कहा है. संघ प्रमुख ने ये बातें भगवान महावीर की जयंती के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं.

भागवत ने कहा है कि हम देशभर में गो-हत्या पर रोक लगाने वाला कानून चाहते हैं. संघ प्रमुख ने कहा कि कानून का पालन करते हुए गाय की रक्षा करने का काम जारी रहना चाहिए. उन्होंने कहा, गो वध के नाम पर कोई भी हिंसा उद्देश्य को बदनाम करती है और कानून का पालन करना ही चाहिए.

आरएसएस प्रमुख ने गोरक्षकों को नसीहत देते हुए कहा है कि गाय की रक्षा करने के दौरान हिंसा गलत है. उन्होंने कहा कि इस तरह की हिंसा से गाय को बचाने के अभियान को झटका लगता है. भागवत ने कहा कि देश में गोहत्या पर पाबंदी हो ये वो भी चाहते हैं लेकिन हिंसा से इस तरह के प्रयास कमजोर पड़ जाते हैं. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि गोरक्षा के दौरान अहिंसा का रास्ता अपनाना चाहिए.

भागवत का यह बयान राजस्थान के अलवर की घटना के बाद सामने आया है. बता दें कि हाल ही में अलवर में पहलू खान नाम के एक शख्स की स्वंयभू गोरक्षकों के एक समूह ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. 50 साल के पहलू खान की मौत यहां के एक अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई थी. घटना की तमाम राजनीतिक दलों ने कड़े शब्दों में निंदा की थी. इस मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है.

वहीं, 7 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने गोरक्षा के नाम पर हिंसा फैलाने वालों पर सख्ती दिखाई. कोर्ट ने 6 राज्यों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है, जिनमें 5 बीजेपी शासित राज्य हैं. जजों ने संबंधित राज्यों से तीन हफ्ते में जवाब देने को कहा है. अगली सुनवाई 3 मई को होगी.

Next Story
Share it