Top
Janskati Samachar

राष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष कर रहा है मुलायम सिंह की अनदेखी, शरद पवार, शरद यादव समेत कई नामों पर हो रहा विचार

राष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष कर रहा है मुलायम सिंह की अनदेखी, शरद पवार, शरद यादव समेत कई नामों पर हो रहा विचार
X

कभी राष्ट्रिय विपक्ष के केंद्र रहने वाले मुलायम सिंह यादव, आज विपक्ष की नज़रों में नहीं बैठ पा रहे हैं. जहाँ एक तरफ राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा के खिलाफ विपक्ष एकजुट होने को तैयार है। विपक्ष की ओर से कई नामों पर अटकलों का बाजार गरम है उन में मुलायम सिंह यादव के नाम पर चर्चा नहीं है।


ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


जनता दल यूनाइटेड के वरिष्ठ नेता शरद यादव, एनसीपी नेता शरद पवार और गोपाल कृष्ण गांधी का नाम चर्चा में है। सोनिया गांधी मई के पहले हफ्ते में समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों की बैठक बुला सकती है। जदयू, एनसीपी भाकपा और माकपा नेताओं ने हालांकि आधिकारिक तौर पर कहा है कि अभी समान विचार धारा वाली पार्टियों को एक साथ लाने पर ही कोशिश चल रही है। किसी भी नाम पर विचार नहीं हुआ है।


ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


जब सभी पार्टियां एक साथ बैठेगी तब नामों पर विचार होगा। मुस्लिम उम्मीदवार के तौर पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का नाम भी चर्चा में है। विपक्षी दलों की कोशिश है कि वे राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार को किसी भी तरह से वॉकओवर नहीं दें। इसलिए बड़ी विपक्षी पार्टियां बहुत सतर्क होकर आगे बढ़ रही हैं।


ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


आशंका है कि कहीं कोई दल गच्चा देकर विपक्षी एकजुटता में सेंध न लगा दें। जदयू नेता केसी त्यागी ने कहा कि अभी किसी विपक्षी दल की तरफ से नकारात्मक संकेत नहीं मिला है। ममता बनर्जी का रुख भी काफी सकारात्मक है। वह भी अपने स्तर पर विपक्षी एकजुटता की पहल कर रही है। त्यागी कहते हैं कि शरद यादव, शरद पवार और गोपाल गांधी जैसे किसी नाम पर कोई बात नहीं हुई है।


ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


उधर, माकपा नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि हम मजबूत सेक्यूलर उम्मीदवार चाहते है। जल्द ही बैठक बुलाकर चर्चा की जाएगी। नीतीश कुमार ने भी उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात की है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी फोन पर शरद पवार से बात की है। एनसीपी नेता डीपी त्रिपाठी ने कहा कि शरद पवार पहले ही ऐसी किसी संभावना को खारिज कर चुके हैं। अभी किसी भी नाम पर विचार नहीं किया गया है।

Next Story
Share it