Top
Jan Shakti

बड़ी खबर: कांग्रेसी नेता संजय निरुपम का विवादित बयान, कहा- भारत का हर नागरिक अपने कुत्ते का नाम अब वजूभाई वाला ही रखेगा'

बड़ी खबर: कांग्रेसी नेता संजय निरुपम का विवादित बयान, कहा- भारत का हर नागरिक अपने कुत्ते का नाम अब वजूभाई वाला ही रखेगा
X

नई दिल्ली – कर्नाटक में भाजपा सरकार गिरने के बाद कर्नाटक के राज्‍यपाल वजुभाई वाले पर चौतरफे हमले हो रहे हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस प्रवक्ता और पूर्व सांसद संजय निरुपम ने आपत्तिजनक बयान दिया है। कर्नाटक में भाजपा को सत्‍ता के लिए आमंत्रित कर विपक्ष के निशाने पर आए राज्‍यपाल की तुलना निरुपम ने कुत्ते से की है। उन्होंने समाचार ऐजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, "राज्‍यपाल वजुभाई वाला जी ने वफादारी का एक कीर्तिमान स्‍थापित किया है। शायद हिंदुस्‍तान का हर आदमी अपने कुत्‍ते का नाम वजुभाई वाला ही रखेगा क्‍योंकि उससे ज्‍यादा वफादार तो कोई हो ही नहीं सकता।"



बता दें कि कांग्रेस कर्नाटक में जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने जा रही है, 21 मई को कांग्रेस और जेडीएस के नेता कुमार स्वामी मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे।
इससे पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने शपथ लेने के दो दिनों बाद विधानसभा में विश्वास मत से पहले ही इस्तीफा दे दिया। येदियुरप्पा ने विधानसभा में बहुमत के लिए आवश्यक सदस्यों की संख्या न होने के कारण इस्तीफा दे दिया। भाजपा के पास सिर्फ 104 सीटें थीं जबकि बहुमत साबित करने के लिये 112 सीटों की जरूरत थी उधर कांग्रेस और जेडीएस अपने पास 118 सीटें होने का दावा कर रहे थे लेकिन राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने के लिये आमंत्रण नहीं दिया बल्कि कम सीटों वाली पार्टी को बहुमत सिद्ध करने का आमंत्रण दिया, इतना ही नहीं राज्यपाल ने भाजपा को बहुमत सिद्ध करने के लिये 15 दिन का समय भी दिया था, जिसे बाद में सुप्रिम कोर्ट ने कम कर दिया और था।


राज्यपाल की इस भूमिका पर कांग्रेस समेत दूसरे दलों के नेताओं ने भी राज्यपाल पर निशाना साधा है, लेकिन कांग्रेस नेता तो आपत्तिजनक बयानबाजी कर डाली, हालांकिं बाद में उन्होंने ट्वीट करते हुए सफाई भी और कहा कि वजू भाई वाला मनुष्य हैं। मैं उन्हें कुत्ता कैसे बना सकता हूं। हां,सर्वोत्कृष्ट मानवीय स्वभाव वफ़ादारी दिखाने में उन्होंने कुत्तों को भी पीछे छोड़ दिया। फिर भी,यह बयान अगर अच्छा नहीं लगा तो क्षमा करें। वैसे महामहिम ने भी लोकतंत्र की हत्या करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस्तीफ़ा तो दें।



Next Story
Share it