Top
Jan Shakti

Exclusive: देखिये भाजपा का दोगलापन आंकड़ों के द्वारा, वर्ष 2016-17 में भारत के बीफ निर्यात में 7.92 हुई फीसदी की वृद्धि!

Exclusive: देखिये भाजपा का दोगलापन आंकड़ों के द्वारा, वर्ष 2016-17 में भारत के बीफ निर्यात में 7.92 हुई फीसदी की वृद्धि!
X

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद के सत्र के दौरान गौ रक्षा को लेकर हुई हिंसा के मामले में संसद में सियासत होने का पूरा अंदेशा था। लिहाजा मोदी ने सत्र शुरू होने से पहले दो बार गौ रक्षा के नाम पर हत्या करने वालों को ना सिर्फ चेतावनी दी बल्कि संबधित मुख्यमंत्रियों को ऐसी हिंसक गतिवधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए भी कहा। मोदी ने ये भी कहा कि इस मामले में सियासत नहीं होनी चाहिए लेकिन विपक्ष पर मोदी की इस अपील का असर नहीं हुआ और संसद में इस मामले को लेकर बवाल जारी है और भाजपा इस मामले में बैकफुट पर नजर आ रही है।


देश में सियासत, विदेश से हो रही पैसों की बारिश

देश में बीफ को लेकर चल रही सियासत के बीच भारत का बीफ एक्सपोर्ट लगातार बढ़ता जा रहा है। वित्त वर्ष 2016-17 में भारत के बीफ निर्यात में 7.92 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। 2015-16 में भारत ने 68 देशों को 171,637,804 लाख रुपए का बीफ निर्यात किया था जबकि 2016-17 में ये बढ़कर 185,233,966 लाख हो गया। हालांकि भारत के कुल निर्यात में बीफ की हिस्सेदारी कुछ कम हुई है। 2015-16 में भारत ने अपने कुल निर्यात का 1.6 फीसदी कारोबार बीफ एक्सपोर्ट के जरिए किया था। जबकि 2016-17 में ये कम होकर 1.4 फीसदी रह गया है। वियतनाम भारत का सबसे बड़ा ग्राहक है भारत ने पिछले साल वियतनाम को 1,312,686 लाख रुपए का बीफ निर्यात किया था। जबकि इस साल भारत ने 1,368,105 लाख रुपए का कारोबार किया है। वियतनाम को हुए निर्यात में भी 4 फीसदी के करीब वृद्धि हुई है।


पर्रिकर के बयान पर गर्माई सियासत

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार को कहा था कि राज्य में बीफ की कमी नहीं आने देंगे और यदि जरुरत पड़ी तो कर्नाटक से भी बीफ मंगवाया जाएगा। कांग्रेस ने पार्रिकर के इस बयान के बाद उनपर हल्ला बोल दिया है। कांग्रेस को मामले में सियासत करते देख विश्व हिंदू परिषद भी इसमें कूद पड़ी और परिषद ने मुख्यमंत्री पर्रिकर का इस्तीफा मांग लिया है। बीएसचपी की तरफ से कहा गया कि पर्रिकर का ये बयान बर्दाशत के काबिल नहीं है और उन्हें तुरंत हटाया जाना चाहिए।


संसद में भी बवाल

इस बीच बीफ कारोबार को लेकर गौ रक्षकों द्वारा हो रही हिंसा का मामला संसद में भी गूंजा। विपक्ष ने राजस्थान हरियाणा और छत्तीसगढ़ में गौ रक्षकों द्वारा पीट-पीट कर की गई लोगों की हत्या के मामले को सदन में उठाया। कांग्रेस का आरोप है कि गौ रक्षकों के नाम पर हिंसा कर रहे लोगों को भाजपा और सरकार की शह है और भाजपा की राज्य सरकारें ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही। जिन-जिन राज्यों में गौ रक्षकों के नाम पर हत्या की गई है उन सभी राज्यों में भाजपा की सरकार है।

Next Story
Share it