Top
Janskati Samachar

राफेल डील पर लिखी किताब पर रोक, नमो टीवी पर कार्रवाई नहीं

राफेल डील पर लिखी किताब पर रोक, नमो टीवी पर कार्रवाई नहीं
X

चुनाव आयोग के अधिकारियों ने राफेल डील पर लिखी किताब की प्रतियां जब्त कर ली हैं. चेन्नई में आदर्श चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर यह रोक लगाई गई है. हालांकि तमिलनाडु के मुख्य चुनाव अधिकारी सत्यव्रत साहू ने चुनाव आयोग या सीईओ अधिकारी की ओर से इस बारे में कोई दिशा निर्देश जारी करने से इनकार किया है.


सत्यव्रत साहू ने कहा, "मैने चेन्नई के डीईओ को मामले की जांचकर जल्द-से-जल्द रिपोर्ट देने को कहा है." किताब का लोकार्पण अंग्रेजी अखबार द हिन्दू के चेयरमैन एन राम करने वाले थे. इससे पहले वरिष्ठ पत्रकार एन राम राफेल डील पर कई रिपोर्ट प्रकाशित कर चुके हैं. इसके उलट चुनाव आयोग नमो टीवी के चालू होने पर अबतक खामोश बना हुआ है. आम आदमी पार्टी ने इसको लेकर चुनाव आयोग के पास शिकायत दर्ज की है.


इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर बायोपिक फिल्म पीएम मोदी रिलीज हो रही है. नरेन्द्र मोदी पर केन्द्रित एक वेब सीरीज भी चुनाव से ठीक पहले रिलीज होने वाला है. चुनाव आयोग के अधिकारियों की अनुमति नहीं मिलने के बाद स्कूल ने 'राफेल: द स्कैम दैट रॉक्ड द नेशन' किताब के लोकार्पण के लिए जगह देने से मना कर दिया था. इंडिया टुडे में छपी खबर के मुताबिक किताब के प्रकाशक भारती प्रकाशन ने बाद में अपने कार्यालय में लोकार्पण कार्यक्रम करने का निर्णय लिया था. लेकिन चुनाव अधिकारियों ने लोकार्पण से पूर्व किताब की प्रतियों को जब्त कर लिया है.


चुनाव अधिकारियों का 'फ्लाइंग स्क्वायड' और पुलिस ने किताब की 142 प्रतियां जब्त की हैं. भारती प्रकाशन के संपादक पीके रंजन ने कहा कि यह पूरी तरह से अनुचित है. उन्होंने कहा कि कंपनी कानूनविदों से मशविरा ले रही है और कोर्ट में इसे चुनौती दी जाएगी. उन्होंने कहा कि यह किताब राफेल डील पर सार्वजनिक क्षेत्र में उपलब्ध सूचनाओं का संग्रह है. एन राम ने कहा है कि किताब पर लगी रोक गैर लोकतांत्रिक और गैरकानूनी है, और यह अभिव्यक्ति और प्रेस की स्वतंत्रता पर हमला है. उन्होंने कहा कि किताब का प्रकाशन आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है.

Next Story
Share it