Top
Jan Shakti

गुजरात में उत्तर भारतियों के खिलाफ हुई हिंसा के विरोध में स्वराज इंडिया ने जताया विरोध

गुजरात में उत्तर भारतियों के खिलाफ हुई हिंसा के विरोध में स्वराज इंडिया ने जताया विरोध
X

नई दिल्ली: भाजपा शासित गुजरात में उत्तर भारतियों के खिलाफ हुई हिंसा के विरोध में स्वराज इंडिया के कार्यकर्तायों ने दिल्ली स्थित गुजरात भवन पर प्रदर्शन कर अपना विरोध प्रकट किया. स्वराज इंडिया दिल्ली इकाई के अध्यक्ष कर्नल जयवीर ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा की मोदी जी के गुजरात मॉडल का सच सामने आ गया है कि आज गुजरात में उत्तर प्रदेश और बिहार के कामगारों पर हमले हो हैं.





उन्हों ने कहा कि
गुजरात में प्रवासी लोगों पर हुई हिंसा के कारण करीब एक लाख से ज्यादा प्रवासी गुजरात छोड़ चुके हैं और अभी भी प्रवासियों का पलायन जारी है। इस घटना के बाद बड़ी संख्या में रोज़गार व व्यवसाय के लिए अन्य राज्यों से आये प्रवासी वर्ग आज डर और असुरक्षा के माहौल रह रहा है। जबकि उनका गुजरात की अर्थवयवस्था में महत्वपूर्ण योगदान रहता है।





गुजरात में यूपी-बिहार के लोगों के ख़िलाफ़ हुई हिंसा घोर निंदनीय है। कोई भी सभ्य समाज इस तरह की घटना को स्वीकार नहीं हो सकता। राजनीतिक फायदे के लिए जाति-धर्म के बाद अब क्षेत्र के नाम पर समाज को बांटने की घटिया कोशिश हो रही है।भारतीय संविधान सभी नागरिकों को देश के किसी क्षेत्र में रोजगार व व्यवसाय का अधिकार देता है। इस प्रकार की घटना देश की एकता अखंडता के लिए भी खतरा है।स्वराज इंडिया गुजरात सरकार से उम्मीद करता है कि प्रवासियों के सुरक्षा के लिए तत्काल कार्रवाई करे व विश्वास का माहौल बनाये ताकि सभी वर्ग के लोग एकसाथ शांतिपूर्ण रूप से रहकर अपना जीवन यापन कर सकें।


इस मौके पर स्वराज इंडिया दिल्ली इकाई के अध्यक्ष कर्नल जयवीर, महा सचिव नवनीत तिवारी, निशांत त्यागी, पंकज चौधरी, रोहिणी, सरोज गोपाल, राजीव रंजन, नीरज कुमार, स्वरूप, हसनैन और अन्य साथी भी मौजूद थे.



Next Story
Share it