Top
Janskati Samachar

जीएसटी के विरोध में एकजुट हुए कारोबारी, कई राज्यों में बंद का एलान

जीएसटी के विरोध में एकजुट हुए कारोबारी, कई राज्यों में बंद का एलान
X

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार जहाँ देश में जीएसटी लागू करने के लिए आज आधीरात को एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है वहीँ जीएसटी के मौजूदा स्वरूप के खिलाफ एकजुट हुए व्यापारियों ने आज बंद का एलान कर सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम बिहारी मिश्रा ने बताया कि सरकार की तरफ से उनपर हड़ताल वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है, लेकिन इस मामले में किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र में भी जीएसटी का विरोध हो रहा है।


जीएसटी के विरोध में आज वाराणसी बंद का एलान किया गया है। व्यापारियों का जीएसटी के विरोध में प्रदर्शन जारी है। इस बंद को उद्योग, व्यापार, कारोबार से जुड़े लगभग सभी प्रमुख संगठनों ने अपना समर्थन दिया है।बनारस के 150 से ज्यादा व्यापार मंडलों ने बंद का समर्थन किया है। शुक्रवार को दवा सहित कुछ जरूरी वस्तुओं को बंद से अलग रखा गया है। वहीँ मध्य प्रदेश में इंदौर में अहिल्या चैंबर ऑफ कॉमर्स के साथ मिलकर 80 व्यापारिक संगठनों ने कारोबार बंद रखने का समर्थन किया है।


अहिल्या चैंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारियों का कहना है कि वे जीएसटी का विरोध नहीं कर रहे हैं, बल्कि जीएसटी काउंसिल के नियमों में विंसगतियों पर कारोबार बंद रख विरोध दर्ज कराया जा रहा है। भोपाल चैंबर ऑफ कॉमर्स की तरफ से बताया गया है कि बंद को सभी व्यापारिक संगठनों ने समर्थन किया है। हालांकि, दूध और सब्जी को बंद से मुक्त रखा गया है। ग्वालियर में भी व्यापारिक संगठनों ने बंद का समर्थन किया है. शहर में करीब 70 हजार दुकानें जीएसटी की विसंगतियों के विरोध में पूरी तरह से बंद रहेंगी।

Next Story
Share it