Top
Jan Shakti

Bihar Election 2020: लग्जरी कार-बाइक के मालिक हैं तेज प्रताप यादव, जानें कितने करोड़ के मालिक हैं तेज प्रताप

लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) इस बार के चुनाव में बिहार के समस्तीपुर जिले की हसनपुर सीट (Hasanpur Assembly Seat) से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. तेजप्रताप ने मंगलवार को ही इस सीट से नामांकन दाखिल किया है.

Bihar Election 2020: लग्जरी कार-बाइक के मालिक हैं तेज प्रताप यादव, जानें  कितने करोड़ के मालिक हैं तेज प्रताप
X

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में समस्तीपुर की हसनपुर सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव करोड़पति हैं. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और महुआ सीट से विधायक रहे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने मंगलवार को नामांकन के दौरान जो हलफनामा दाखिल किया है जिसके मुताबिक 5 साल में उनकी संपत्ति में लगभग 50 लाख रुपए का इजाफा हुआ है. अपनी लाइफस्टाइल और तरह-तरह के कारनामों को लेकर हमेशा से चर्चा में रहने वाले तेजप्रताप यादव कार और बाइक के शौकीन हैं, यही कारण है कि उनके पास बीएमडब्ल्यू और रेसिंग बाइक जैसी गाड़ियां मौजूद हैं.

हलफनामे के मुताबिक प्रताप यादव 29 लाख रुपए की कीमत वाली बीएमडब्ल्यू कार और 15 लाख रुपए कीमत वाली 1000 सीसी की बाइक के मालिक हैं, इसके अलावा उनके पास ज्वेलरी भी है जिसकी कीमत ₹4 लाख के करीब है. नामांकन पत्र के हलफनामे के मुताबिक तेजप्रताप यादव की संपत्ति दो करोड़ 51लाख 63 हजार 509 रुपए बताई गई है जो कि 2015 के चुनाव से लगभग 50 लाख रुपए अधिक है.

तेजप्रताप यादव के पांच अलग-अलग बैंकों में अकाउंट हैं जिनमें फिलहाल 14 लाख 87371 रुपए जमा हैं. ये राशि 2015 की तुलना में लगभग लाख लाख रुपए अधिक हैं. हलफनामे में तेजप्रताप यादव ने जो जानकारी दी है उसके मुताबिक उनके पास सवा लाख रुपए कैश हैं जबकि विभिन्न तरह के शेयरों में भी तेज प्रताप यादव ने 25 तक का निवेश कर रखा है. सोशल मीडिया में काफी एक्टिव रहने वाले तेजप्रताप यादव लैपटॉप और डेस्कटॉप के भी मालिक हैं, हालांकि उनके ऊपर 33 लाख रुपए का ऋण भी है.

तेजप्रताप यादव इस बार महुआ की बजाय समस्तीपुर सीट से चुनाव मैदान में हैं. उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय के भी चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे थे लेकिन ऐसा अभी तक नहीं हुआ है. तेजप्रताप साल 2015 में पहली बार विधायक और फिर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री बने थे.

Next Story
Share it