Janskati Samachar

बैसाखी के मौके पर योगी ने गुरुद्वारे में टेका मत्था

बैसाखी के मौके पर योगी ने गुरुद्वारे में टेका मत्था
X

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैसाखी के मौके पर राजधानी के याहियागंज गुरुद्वारे में जाकर मत्था टेका। सिख समुदाय के लोगों ने उनका स्वागत किया, वहीं मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारे में बैठकर पाठ भी सुना। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम सब को खुद को किसी विवाद का हिस्सा नहीं बनने देना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिख धर्म त्याग और सेवा का सन्देश देता है। हमें उन सन्देशों को अपने जीवन में आत्मसात कैसे करें इस पर काम करना चाहिए।

आने वाली पीढ़ियों को त्याग और सेवा का सन्देश देना चाहिए। गुरु तेगबहादुर और गुरु गोविन्द सिंह देश के लिए समर्पित थे। गुरु तेगबहादुर के त्याग से प्रेरणा लेनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर देश को एकसूत्र में बांधने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि जाति-धर्म और छुआछूत से ऊपर उठकर हमें देश के लिए काम करना होगा।

योगी ने यहां सिख गुरुओं की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि सिख गुरुओं का यही सन्देश है कि जाति-धर्म से ऊपर उठकर काम करें। उन्होंने कहा कि खालसा पंथ और बैसाखी का पर्व हमें समानता का पाठ पढ़ाता है।

Next Story
Share it