Janskati Samachar

योगी राज में सुरक्षित नहीं महिलाएं, हाथरस, बलरामपुर के बाद महराजगंज में नाबालिग के साथ गैंगरेप, विरोध करने पर दरिंदों ने बेरहमी से पीटा

उत्तर प्रदेश के हाथरस और बलरामपुर में हुए गैंगरेप कांड की लहर अभी बुझी नहीं कि अब एक और गैंगरेप और जानलेवा हमला की घटना सामने आ गई। इस मामले में फिलहाल दो आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

योगी राज में सुरक्षित नहीं महिलाएं, हाथरस, बलरामपुर के बाद महराजगंज में नाबालिग के साथ गैंगरेप, विरोध करने पर दरिंदों ने बेरहमी से पीटा
X

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के हाथरस और बलरामपुर में हुए गैंगरेप कांड की लहर अभी बुझी नहीं कि अब एक और गैंगरेप और जानलेवा हमला की घटना सामने आ गई। जिले के एक गांव में चार दरिंदों ने मिलकर एक नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप कर दिया। इतना ही नहीं, जब लड़की गैंगरेप का विरोध करने लगी तो उसे बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। इससे लड़की गंभीर अवस्था में खेत में बेहोश पड़ी हुई थी। किसी तरह से होश आने के बाद लड़की अपने घर पहुंची। लड़की के हालात को देखते हुए परिजन मौके पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका इलाज चल रहा है। यह घटना कोठीभार थानाक्षेत्र के एक गांव की है।

चार आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज

उधर, घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंचकर पीड़िता का बयान दर्ज किया। पीड़िता के बयान आधार पर एक नामजद और तीन अज्ञात दरिंदों के खिलाफ गैंगरेप, पॉक्सो एक्ट समेत कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है।अभी तक इस मामले में एक नामजद समेत दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। कोठीभार पुलिस इन दरिंदों से पूछताछ कर रही है।

पिछले कई महीनों से चल रहा था दोनों का बातचीत

बताया जा रहा है कि वारदात में शामिल एक युवक नाबालिग से पिछले कई महीने से फोन पर बातचीत कर रहा था। इस बीच युवक लड़की को अपने झूठे प्यार का भरोसा दिलाता रहा। इस दौरान रविवार को दिन में करीब 11 बजे युवक ने मिलने के बहाने से लड़की को खेत की तरफ बुलाया। जब लड़की खेत की ओर पहुंची तो देखा कि युवक अपने तीन दोस्तों के साथ खड़ा था। इसके बाद लोग लड़की के साथ अश्लील हरकत करने लगे। लड़की ने इसका विरोध किया तो लोगों ने मारना-पीटना शुरू कर दिया।

इसके बाद चारों दरिंदों ने दबोच कर लड़की के साथ बारी-बारी से रेप कर दिया। इससे लड़की बेहोश होकर खेत में पड़ी रही और दरिंदें अपनी वारदात को अंजाम देकर मौके पर से फरार हो गया। एसपी प्रदीप गुप्ता और एडीएम कुंज बिहारी अग्रवाल परिजनों से मुलाकात करने के लिए जिला अस्पताल पहुंचे और परिजनों को भरोसा दिलाया कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Next Story
Share it