Top
Jan Shakti

योगीराज में गौरक्षकों का आतंक: मुलसलमान समझ कर हिन्दू गौपालकों की धुनाई : पढ़े पूरी खबर

योगीराज में गौरक्षकों का आतंक: मुलसलमान समझ कर हिन्दू गौपालकों की धुनाई : पढ़े पूरी खबर
X

योगी राज में गौरक्षकों आतंक सर चढ़ कर बोल रहा है। ताज़ा मामला ग्रेटर नोएडा में गौरक्षकों द्वारा दो लोगों की पिटाई का सामने आया है। आरोप है कि जबर सिंह (35) और भूप सिंह (45) नाम के दो लोग एक गाय और उसके बछड़े को पास के गांव से लेकर आए थे और जब वे रास्ते में रुके तो गौरक्षकों ने उनपर हमला बोल दिया। दोनों ने यह विश्वास दिलाया कि वे गौतस्कर नहीं है तब जाकर उन्हें छोड़ा गया।

ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, जबर और भूप सिंह पास के मेहंदीपुर गांव से गाय और बछड़ा खरीदकर लाए थे और उन्हें लेकर अपने गांव जेवर जा रहे थे। पुलिस के मुताबिक, वे लोग पैदल थे और रास्ते में रुककर पेड़ के नीचे आराम करने लगे। वहीं पर कथित गौरक्षकों का दल पहुंच गया।शिकायत में भूप सिंह ने पुलिस को बताया कि उन दोनों पर आठ-नौ लोगों ने हमला किया था।

ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


भूप सिंह ने बताया कि बिना किसी दुश्मनी के हमला किया गया और उन लोगों ने बिना कुछ पूछे पीटना शुरू कर दिया था। भूप सिंह के मुताबिक, जब पीट रहे लोगों को विश्वास हो गया कि वे लोग गौतस्कर नहीं डेयरी के काम से जुड़े लोग हैं तब जाकर दोनों को छोड़ा गया। भूप सिंह के परिवार के एक शख्स ने बातचीत करते हुए कहा, 'हम लोग गरीब लोग हैं, हमें डेयरी के काम के लिए गाय चाहिए होती है, इसी से हमारा गुजारा चलता है। दोनों को काफी चोट लगी हैं, पता नहीं वे काम पर कबतक लौट पाएंगे।

ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


'दोनों को पहले पास के प्राइवेट हॉस्पिटल में लेकर जाया गया था जहां से उनको नोएडा जिला अस्पताल भेज दिया गया। डॉक्टर ने बताया कि दोनों के कुछ अंदरूनी चोट और फेक्चर हैं। हालांकि दोनों की हालत गंभीर नहीं है।जेवर के एसएचओ अजय कुमार शर्मा ने कहा कि उन्होंने कुल नौ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। जिसमें से पांच अज्ञात और चार जानने वाले हैं।

ताज़ा अपडेट्स के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें


पुलिस फिलहाल खोजबीन में लग गई है। जिन लोगों की पहचान हुई है उनके नाम महेश, आशीष, ओमपाल और गौरव है। वे वहीं आसपास के रहने वाले हैं।विश्व हिंदू परिषद की गऊ रक्षा युनिट ने ऐसी किसी कार्रवाई में उनका हाथ होने से इंकार किया। फिलहाल पुलिस ने आईपीसी की धारा 147 (दंगों), 323 (स्वेच्छा से चोट लगी), 504 (शांति का उल्लंघन), 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

Next Story
Share it