Top
Janskati Samachar

विजेंदर फिर बने रिंग के किंग, चेका को हराकर बचाया WBO एशिया पैसिफिक टाइटल

विजेंदर फिर बने रिंग के किंग, चेका को हराकर बचाया WBO एशिया पैसिफिक टाइटल
X
ओलंपिक कांस्य पदक विजेता और भारत के पहले प्रो-बॉक्सर विजेंदर सिंह ने नई दिल्ली में तंजानिया के फ्रांसिस चीका को तीसरे राउंड में नाक आउट कर अपना डब्ल्यूबीओ एशिया पेसिफिक सुपर मिडिलवेट टाइटल बचा लिया है। यह विजेंदर सिंह की प्रो बॉक्सिंग में लगातार आठवीं जीत है। वह अब तक अविजेय बने हुए हैं। किसी को भी इस बात की आशा नहीं थी कि विजेंदर इतनी जल्दी इस मुकाबले को जीत लेंगे। माना जा रहा था कि पेशेवर मुक्केबाजी में अपनी छाप छोड़ चुके विजेंदर सिंह के लिए यह अब तक का सबसे कठिन मुकाबला होगा।
विजेंदर ने इसी साल ऑस्ट्रेलिया के कैरी होप को नई दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में मात देते हुए यह खिताब अपने नाम किया था। महज 17 साल की उम्र में पेशेवर मुक्केबाजी की दुनिया में कदम रखने वाले चेका तंजानिया के चेका के पास 43 मुकाबलों का अनुभव था। जिसमें से उन्होंने 32 में जीत हासिल की थी। लेकिन 44वें मुकाबले में विजेंदर के सामने उनका यह अनुभव विजेंद्र के दमखम के सामने बौना साबित हुआ।
पहले राउंड में ही विजेंदर ने चेका पर 3-1 की बढ़त बना ली थी। दूसरे राउंड में भी चेका के पास उनके मुक्कों का जवाब नहीं था। तीन मिनट के तीसरे राउंड में महज 1 मिनट 58 सेकेंड रहते विजेंदर ने चीका को नॉक आउट कर खिताब अपने नाम कर लिया।

विजेंदर ने अपार समर्थन के लिए सभी प्रशंसकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि मैं अपने खिताब को बचाने के लिए दो महीने से अभ्यास कर रहा था। वो( चेका) ज्यादा बात कर रहा था। मुझे बातों मे नहीं अपने पंच पर यकीन था।

विजेंदर के मैनेजर ने आगे विश्व खिताब को चैलेंज करने के बार में कहा कि हम उस दिशा में एक एक कदम करके आगे बढ़ाएंगे।
Next Story
Share it