Top
Janskati Samachar

मास्क न पहने हुए व्यक्ति को सिपाहियों ने बेरहमी से पीटा, गुंडागर्दी करने के लिए हुए सस्पेंड

आर्थिक राजधानी इंदौर में मास्क न पहनने वाले व्यक्ति को बेरहमी से पीटना दो पुलिसकर्मियों को भारी पड़ गया। मास्क न पहनने वाले व्यक्ति को बेरहमी से पीटने के मामले में दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

मास्क न पहने हुए व्यक्ति को सिपाहियों ने बेरहमी से पीटा, गुंडागर्दी करने के लिए हुए सस्पेंड
X

इंदौर। आर्थिक राजधानी इंदौर में मास्क न पहनने वाले व्यक्ति को बेरहमी से पीटना दो पुलिसकर्मियों को भारी पड़ गया। मास्क न पहनने वाले व्यक्ति को बेरहमी से पीटने के मामले में दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। गोपाल जाट और महेश प्रजापति द्वारा इंदौर के एक रिक्शा चालक को बेरहमी से पीटने का वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी आशुतोष तिवारी ने सस्पेंड किया है।

यह सारा मामला इंदौर के परदेशीपुरा थाना क्षेत्र का है। गोपाल जाट और महेश प्रजापति नामक सिपाहियों ने मालवा मील मुक्ति धाम के सामने एक ऑटो चालक को दबोच लिया। ऑटो चालक कृष्णा बिना मास्क पहने ही घूम रहा था। लिहाज़ा पुलिस को कायदे से कृष्णा का चालान काटना चाहिए था।

लेकिन दोनों ही सिपाहियों ने कृष्णा को बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। बीच सड़क पर दोनों सिपाहियों ने कृष्णा को लेटाकर पीटा। इस बीच कृष्णा दर्द से कराहता उसका बच्चा भी पुलिस वालों से अपने पिता को छोड़ देने की गुहार लगाता रहा। लेकिन पुलिस वालों ने उसकी एक न सुनी। घटनास्थल पर मौजूद लोगों की भीड़ भी केवल मूक दर्शक ही बनी रही।

पुलिसकर्मियों का यह वीडियो जल्द ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। और इस मामले में पुलिसकर्मियों की आलोचना भी शुरू हो गई। कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट करते हुए कहा है कि इन पुलिसकर्मियों को पिटाई का हक किसने दे दिया? सलूजा ने ट्वीट किया है, 'ये बर्बरता है ?ये पुलिस के जवान इंदौर के थाना परदेशीपुरा के बताये जा रहे है।इस व्यक्ति का दोष यह बताया जा रहा है कि इसने मास्क नहीं पहना था।मास्क नहीं पहनने पर चालान का नियम है , पिटाई का हक़ किसने दिया ?इन दोषी जवानो पर कार्यवाही हो।'

Next Story
Share it