Top
Janskati Samachar

सुबह 4 बजे बांदा जेल पहुंचेगा मुख्तार अंसारी, पूरी रात नॉन स्टॉप लेकर जा रही है यूपी पुलिस

यूपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को मंगलवार को यूपी पुलिस के हवाले कर दिया गया। अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल से यूपी की बांदा जेल शिफ्ट किया जा रहा है। कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद यूपी पुलिस अंसारी को लेकर निकल गई।

Mukhtar Ansari will reach Banda jail at 4 in the morning, UP police is taking non-stop all night
X

यूपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को मंगलवार को यूपी पुलिस के हवाले कर दिया गया। अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल से यूपी की बांदा जेल शिफ्ट किया जा रहा है। कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद यूपी पुलिस अंसारी को लेकर निकल गई। बताया जा रहा है कि यूपी पुलिस मुख्तार अंसारी को लेकर बुधवार सुबह 4 बजे बांदा जेल पहुंचेगी। पुलिस सारी रात नॉन स्टाप चल रही है। दोपहर करीब दो बजे मुख्तार अंसारी को लेकर यूपी पुलिस की टीम रोपड़ जेल के दूसरे गेट से निकली।

अंसारी की एंबुलेंस के साथ यूपी पुलिस की 10 गाड़ियों का काफिला है। अंसारी की सेहत ठीक नहीं होने के कारण यूपी पुलिस के साथ 4 डॉक्टरों की एक टीम भी है। अंसारी को ले जाने के लिए यूपी पुलिस की एक पार्टी रविवार देर रात ही रोपड़ पहुंच चुकी थी।

मुख्तार अंसारी को लेकर रोपड़ से बांदा जेल के लिए रवाना हुई टीम का काफिला उत्तर प्रदेश की सीमा में प्रवेश किया।। मुख्तार को लेकर जा रही पुलिस का काफिला गाजियाबाद की सीमा में प्रवेश कर मसूरी क्षेत्र से होते हुए निकल गया। पुलिस का काफिला ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे से होते हुए बागपत जनपद से निकल गया।

बताया जा रहा है कि अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी और डीजीपी हितेश अवस्थी ने आदेश दिया है कि मुख्तार को लेकर आ रहा यूपी पुलिस का काफिला जिस-जिस जिले से गुजरेगा, उस-उस जिले की पुलिस काफिले को एस्कॉर्ट करेगी।

मुख्तार के भाई अफजाल अंसारी ने कहा है कि मुख्तार अंसारी बीमार है। हमें चिंता है। बांदा जेल में पहले भी एक बार उसे चाय में जहर दे दिया गया था। जहां तक न्यायिक प्रक्रिया की बात है, अंसारी के खिलाफ 40-50 मामले होने की फर्जी बातें की जा रही हैं। छोटी-बड़ी धाराओं के 13 मुकदमें एमपी एमएलए कोर्ट इलाहाबाद में विचाराधीन हैं। उनका परीक्षण होगा।

बता दें कि दो साल में उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम 8 बार अंसारी को लेने पंजाब गई, लेकिन हर बार सेहत, सुरक्षा और कोरोना का कारण बताकर पंजाब पुलिस ने सौंपने से मना कर दिया। पंजाब पुलिस डॉक्टर की सलाह का हवाला देती रही कि अंसारी को डिप्रेशन, शुगर, रीढ़ की बीमारियां हैं। ऐसे में उसे कहीं और शिफ्ट करना ठीक नहीं है। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान यूपी सरकार ने कहा था कि मुख्तार अंसारी पर 15 केस दर्ज हैं और वह गैंगस्टर की श्रेणी में आता है। वह पंजाब की जेल में मौज कर रहा है। उसके न आने से उत्तर प्रदेश की अदालतों में उसके खिलाफ सुनवाई रुकी हुई है। पंजाब सरकार के वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि यूपी सरकार की मांग संवैधानिक प्रावधानों के खिलाफ है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने वकील की दलील ठुकरा दी थी। दूसरी ओर मोहाली की कोर्ट में 12 अप्रैल को सुनवाई विडियो कांफ्रेंसिंग से होगी।

Next Story
Share it