Top
Janskati Samachar

कोरोना को लेकर RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- सरकार और जनता की लापरवाही के चलते आई दूसरी लहर

देश में कोरोना के मौजूदा हालात पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने शनिवार को कहा कि पहली लहर के बाद जनता के साथ-साथ सरकार और प्रशासन लापरवाह हो गए थे जो कोरोना की दूसरी लहर में बड़े नुकसान की वजह बनी।

कोरोना को लेकर RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- सरकार और जनता की लापरवाही के चलते आई दूसरी लहर
X

देश में कोरोना के मौजूदा हालात पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने शनिवार को कहा कि पहली लहर के बाद जनता के साथ-साथ सरकार और प्रशासन लापरवाह हो गए थे जो कोरोना की दूसरी लहर में बड़े नुकसान की वजह बनी। उन्होंने कहा कि डॉक्टरों ने चेतावनी के बाद भी लापरवाही जारी रही। भागवत ने कहा कि अब तीसरी लहर के लिए हमें हमें पॉजिटिव रहना होगा और ऐसी तैयारी करनी है लहर आए भी तो उसके असर से बचा जा सके।

भागवत ने 'पॉजिटिविटी अनलिमिटेड' कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यह परीक्षा का समय है और हमें पॉजिटिव रहना होगा। उन्होंने कहाकि मौजूदा परिस्थिति में खुद को कोविड नेगेटिव रखने के लिए सावधानियां बरतनी होंगी। इन परिस्थितियों में तर्कहीन बयान देने से भी बचना चाहिए। हमें एकजुट रहना होगा और एक टीम की तरह कार्य करना होगा।

आरएसएस प्रमुख ने कहा कि सफलता और विफलता अंतिम नहीं है, जारी रखने का साहस मायने रखता है। उन्होंने कहा, ''हम इस परिस्थिति का सामना कर रहे हैं क्योंकि सरकार, प्रशासन और जनता, सभी कोविड की पहली लहर के बाद लापरवाह हो गए थे। अब तीसरी लहर की बात हो रही है, लेकिन हमें डरने की नहीं, बल्कि खुद को तैयार करने की जरूरत है।''

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी मानवता के सामने चुनौती है और भारत को मिसाल कायम करनी है। हमें गुण-दोष की चर्चा किए बिना एक टीम के रूप में काम करना है। हम इसे बाद में कर सकते हैं। हम एक टीम के रूप में काम करके और अपने काम को तेज करके इस चुनौती को दूर कर सकते हैं।

बता दें कि देश में एक दिन में 3,26,098 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद कोविड-19 के मामले बढ़कर 2,43,72,907 हो गए हैं, जबकि 3,890 और मरीजों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 2,66,207 हो गई है।

Next Story
Share it