Top
Janskati Samachar

रीता बहुगुणा जोशी जीवन परिचय | Rita Bahuguna Joshi Biography In Hindi

Rita Bahuguna Joshi Biography In Hindi: रीता बहुगुणा जोशी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा और कमला बहुगुणा की बेटी हैं, जो पूर्व सांसद थे।

रीता बहुगुणा जोशी जीवन परिचय | Rita Bahuguna Joshi Biography In Hindi
X

रीता बहुगुणा जोशी जीवन परिचय | Rita Bahuguna Joshi Biography In Hindi

Rita Bahuguna Joshi Biography In Hindi: रीता बहुगुणा जोशी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा और कमला बहुगुणा की बेटी हैं, जो पूर्व सांसद थे। उन्होंने एमए पूरा किया और इतिहास में पीएचडी किया है। वह इलाहाबाद विश्वविद्यालय में मध्ययुगीन और आधुनिक इतिहास में प्रोफेसर भी हैं। उन्होंने इलाहाबाद की मेयर बनकर 1995 में राजनीति में प्रवेश किया। वह वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। वह 2007 से 2012 तक उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्षा थी। 20 अक्टूबर 2016 को, वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गईं। पार्टी छोड़ने से पहले 24 साल तक वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ थीं। उन्होंने दो बार लोकसभा चुनाव में चुनाव लड़ा लेकिन दोनों बार हार गई। 2012 के विधानसभा चुनावों में, उन्हें लखनऊ छावनी के लिए विधान सभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित किया गया था। उन्होंने पेट्रीस लुमुंबा विश्वविद्यालय के एक यांत्रिक इंजीनियर पी. सी. जोशी से विवाह किया। उनका एक बेटा, मयंक जोशी हैं।

निजी जीवन

पूरा नाम : रीता बहुगुणा जोशी

जन्म तिथि : 22 Jul 1949 (उम्र 71)

जन्म स्थान : इलाहाबाद

पार्टी का नाम : BJP

शिक्षा : Doctorate

व्यवसाय : प्रोफेसर

पिता का नाम : हेमवती नंदन बहुगुणा

माता का नाम : कमला बहुगुणा

पति का नाम: पी. सी. जोशी

पति का व्यवसाय : मकैनिकल इंजीनियर

बेटा: 1

सम्पर्क: स्थाई पता 20, मिंटो रोड, इलाहाबाद- 211001

वर्तमान पता: 41, गुलिस्ता कॉलोनी, लखनऊ

सम्‍पर्क नंबर: 9415215283

ई-मेल: ritabjoshi@hotmail.com

वेबसाइट: ritabjoshi.in

रोचक तथ्‍य

रीता बहुगुणा जोशी भी एक प्रसिद्ध लेखक हैं। उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में शामिल होने से पहले दो इतिहास की किताबें लिखीं।

राजनीतिक घटनाक्रम

  1. 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में रीता बहुगुणा लखनऊ कैंट सीट चुनाव लड़ी। उन्होंने मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव को सिर्फ 33,796 वोटों के अंतर से पराजित किया। बाद में उन्हें योगी कैबिनेट में कल्याण, परिवार और बाल कल्याण मंत्री व पर्यटन मंत्री के रूप में शामिल किया गया।
  2. 2016 कांग्रेस में 24 साल बिताने के बाद, वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गईं।
  3. 2014 2014 लोकसभा चुनाव लखनऊ से असफल रहीं।
  4. 2012 लखनऊ छावनी विधानसभा क्षेत्र से विधान सभा की सदस्‍या के रूप में निर्वाचित हुईं।
  5. 2009 यूपी की मुख्यमंत्री मायावती के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए रीता जोशी को मुरादाबाद जेल भेजा गया था।
Next Story
Share it