Top
Janskati Samachar

UP : योगी राज में बढ़ते अपराध की अखिलेश यादव ने खोल दी पल, योगी को दी ये बड़ी नसीहत

अखिलेश यादव ने आगरा में दिनदहाड़े महिला डॉक्टर की हत्या को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। शनिवार सुबह एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि आगरा के एक व्यस्त रिहायशी इलाके में एक महिला डॉक्टर के घर में घुसकर गला रेतकर उसकी हत्या किये जाने की घटना से प्रदेश स्तब्ध है।

Akhilesh yadav react on Lady Doctor Murdered In Agra
X

Akhilesh yadav react on Lady Doctor Murdered In Agra

नई दिल्ली: अखिलेश यादव ने आगरा में दिनदहाड़े महिला डॉक्टर की हत्या को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। शनिवार सुबह एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि आगरा के एक व्यस्त रिहायशी इलाके में एक महिला डॉक्टर के घर में घुसकर गला रेतकर उसकी हत्या किये जाने की घटना से प्रदेश स्तब्ध है। भाजपा सरकार भ्रष्ट अधिकारियों को बचाने व विपक्षियों को झूठे मुक़दमों में फँसाने में लगी है। सरकार टीवी पर प्रचार की जगह, उप्र में अपराध पर विचार करे।

आप को बता दें आगरा के कमला नगर की कावेरी कुंज कॉलोनी में शुक्रवार दोपहर लगभग साढ़े तीन बजे टीवी रिचार्ज करने के बहाने से आए युवक ने दंत रोग चिकित्सक निशा सिंघल (38) की चाकू से गर्दन रेतकर घर में लूटपाट की। हत्यारे ने डॉक्टर के बेटी एनिशा (8) और बेटे अद्वय (4) को चाकू मारकर घायल कर दिया।

सनसनीखेज वारदात के बाद उसने सीसीटीवी कैमरे की डीबीआर को भी तोड़ने की कोशिश की। एक घंटे तक घर को खंगालने के बाद वह साढ़े चार बजे निकला। घर के सामने लगे कैमरे की फुटेज से उसकी पहचान हो गई। पुलिस ने ट्रांस यमुना नगर स्थित उसके घर दबिश दी, लेकिन मिला नहीं।

डॉ. निशा सिंघल का क्लीनिक घर में ही है। पति अजय सिंहल देहली गेट स्थित रवि हॉस्पिटल में सर्जन हैं। वह हॉस्पिटल में ही थे। घर पर डॉ. निशा और बच्चे थे। तभी मोबाइल और टीवी चार्ज करने वाला युवक शुभम पाठक घर में आया। घायल बच्चों ने पुलिस को बताया कि उसने ड्राइंगरूम में मां की हत्या कर दी। वे दूसरे कमरे में थे। मां की चीख सुनकर आए तो उन्हें भी चाकू मारे, वे गिर पड़े तो वहां से चला गया और फिर पूरे घर को खंगाला।

डेढ़ घंटे तक तड़पती रहीं लहूलुहान डॉक्टर

हत्यारे ने घर में घुसने के थोड़ी देर बाद ही डॉ. निशा की गर्दन चाकू से रेत दी थी। इसके बाद वह एक घंटे शाम साढ़े चार बजे तक घर में रहा। उसके चले जाने के बाद निशा ने पति को फोन किया। वह आधा घंटा में पहुंचे। इस डेढ़ घंटे में उनका काफी खून बह गया। पति ही उन्हें और बच्चों को रवि हॉस्पिटल ले गए, लेकिन तब तक निशा की मौत हो चुकी थी। बच्चों को भर्ती किया गया है।

डॉ. अजय ने ही पुलिस को फोन किया। पुलिस अधिकारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। घटना के संबंध में जानकारी जुटाई। एडीजी अजय आनंद ने बताया कि चिकित्सक की हत्या करने वाले युवक की पहचान हो गई है। उसकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

Next Story
Share it