Top
Janskati Samachar

योगीराज : मामूली विवाद पर बांदा में कुल्हाड़ी से काटकर सिपाही, मां और बहन की हत्या, ये है वजह

वारदात बांदा कोतवाली क्षेत्र के चमरोड़ी इलाके की है। जानकारी के मुताबिक, सिपाही अभिजीत वर्मा प्रयागराज जिले के नैनी थाने में तैनात है। सिपाही अभिजीत शुक्रवार को घर आए थे। यहां उनकी मां रामादेवी और अविवाहित बहन निशा रहते हैं। पिता रामप्रसाद का काफी समय पहले निधन हो चुका है।

योगीराज : मामूली विवाद पर बांदा में कुल्हाड़ी से काटकर सिपाही, मां और बहन की हत्या, ये है वजह
X

बांदा। खबर उत्तर प्रदेश के बांदा जिले से है, यहां एक ही परिवार के तीन लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई। शुक्रवार (20 नवंबर) रात सवा 11 बजे हुई घटना से इलाके में हड़कंप मच गया। वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही आईजी के सत्यनारायण और एसपी सिद्धार्थशंकर मीना और फॉरेंसिक विभाग की टीम मौके पर पहुंची। फॉरेसिंक विभाग की टीम ने घटना स्थल से साक्ष्यों को कब्जे में लेकर तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टॉर्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही पुलिस ने मृतक सिपाही अभिजीत के चचेरे भाइयों समेत चार लोगों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस की मानें तो हिरासत में लिए गए अभियुक्तों से पूछताछ की जा रही है।

वारदात बांदा कोतवाली क्षेत्र के चमरोड़ी इलाके की है। जानकारी के मुताबिक, सिपाही अभिजीत वर्मा प्रयागराज जिले के नैनी थाने में तैनात है। सिपाही अभिजीत शुक्रवार को घर आए थे। यहां उनकी मां रामादेवी और अविवाहित बहन निशा रहते हैं। पिता रामप्रसाद का काफी समय पहले निधन हो चुका है। अभिजीत के पड़ोस में ही ताऊ भगवानदीन का परिवार रहता है। पुलिस के मुताबिक, भगवानदीन के घर से नाली में चावल फेंक दिए गए। इसको लेकर सिपाही अभिजीत ने आपत्ति जताई तो ताऊ के पुत्र शिवपूजन, देवराज, बब्लू व परिवार की एक महिला लाठी-डंडे और कुल्हाड़ी लेकर उस पर टूट पड़े।

चचेरे भाई ने सिपाही अभिजीत को जमकर पीटा और कुल्हाड़ी से कई वार किए। सिपाही लहूलुहान होकर गिर गया तो उसकी मां और बहन बचाने दौड़ीं। इस पर हमलावरों ने उन पर भी हमला कर दिया। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद आरोपित वहां से भाग गए। वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारियों के होश उड़ गए। थाना पुलिस और सीओ फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी आला अधिकारियों की दी। जानकारी मिलते ही चित्रकूट जिले के आईजी के. सत्यानारायण और एसपी एसएस मीणा भी मौके पर पहुंचे और घटना के बारे में जानकारी हासिल की।

पुलिस ने शिवपूजन और देवराज को गिरफ्तार कर लिया जबकि अन्य लोगों की तलाश में दबिश दी जा रही थी। एसपी एसएस मीणा ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि, विवाद मुख्यत अभिजीत के घर के बाहर उसके चचेरे भाइयों के द्वारा बचा हुआ खाना फेकने से शुरू हुआ था। जिसका अभिजीत ने विरोध किया तो उसके चचेरे भाइयों ने अभिजीत जो की पुलिस विभाग में प्रयागराज में तैनात था, उसकी मां और बहन की उनके हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस ने 4 अभियुक्तो को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

Next Story
Share it