Top
Janskati Samachar

लखनऊ: युवक ने लोकभवन के सामने किया आत्मदाह का प्रयास, ये थी वजह

लेखपाल और प्रधान से परेशान युवक ने राजधानी लखनऊ में लोकभवन के सामने आत्‍मदाह का प्रयास करते हुए खुद को आग के हवाले कर दिया। घटना देख आसपास तैनात पुलिसकर्मी युवक को पकड़ने को दौड़ पड़े। वहां काफी अफरा तफरी का माहौल पैदा हो गया।

लखनऊ: युवक ने लोकभवन के सामने किया आत्मदाह का प्रयास, ये थी वजह
X

जनशक्ति। लेखपाल और प्रधान से परेशान युवक ने राजधानी लखनऊ में लोकभवन के सामने आत्‍मदाह का प्रयास करते हुए खुद को आग के हवाले कर दिया। घटना देख आसपास तैनात पुलिसकर्मी युवक को पकड़ने को दौड़ पड़े। वहां काफी अफरा तफरी का माहौल पैदा हो गया। सोमवार को कन्नौज के रहने वाले एक शख्स ने लोकभवन के बाहर खुद को आग के हवाले कर दिया। यह देख पुलिसकर्मियों में अफरातफरी मच गई। कंबल से आग पर काबू पाते हुए युवक को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि पीड़ित करीब 30 फीसदी झुलसा है।

कन्नौज जिले के इंद्रगढ़ थाना क्षेत्र के गोदरा के निवासी उमाशंकर पुत्र रामशरण सोमवार सुबह 10:30 बजे के करीब लोकभवन के पास पहुंचा। इसके बाद उसने खुद पर मिट्टी का तेल उड़ेलकर आग लगा ली। यह देख वहां मौजूद पुलिसकर्मी दौड़े और उस पर कंबल डाला। 36 साल के उमाशंकर को आनन-फानन में हजरतगंज स्थित सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत फिलहाल स्थिर है। कमर के नीचे जलने की वजह से घायल युवक की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने बताया कि उमाशंकर की जमीन पर अवैध कब्जा है जिसे हटाने के लिए उमाशंकर ने लेखपाल पुष्प कांत मिश्रा और प्रधान राज नारायण गुप्ता से शिकायत की थी। लेकिन आरोप है कि लेखपाल व प्रधान विपक्षी शिव कुमार को उसी का घर बनाने की मदद करते रहे। लेखपाल से प्रताड़ित और परेशान होकर आज सुबह वह रोडवेज बस से लखनऊ आया। फिर चारबाग से लोकभवन के सामने गेट नंबर 2 विधानसभा पर उतर कर खुद को आग लगा ली। उसका इलाज सिविल हॉस्पिटल में चल रहा है।

Next Story
Share it