Top
Jan Shakti

LJP का NDA से जाना तय! चिराग के तेवर को देखते हुए ये है BJP-JDU अगली रणनीति

Chirag Paswan Takes Big Decision : एलजेपी की नाराजगी सिर्फ जेडीयू को लेकर है। पार्टी का बीजेपी के साथ कोई टकराव नहीं है। यही वजह है कि एलजेपी आगामी चुनाव में अकेले उतरने की योजना बना रही लेकिन, वो बीजेपी के खिलाफ उम्मीदवार उतारने पर विचार नहीं कर रही है।

LJP का NDA से जाना तय! चिराग के तेवर को देखते हुए ये है BJP-JDU अगली रणनीति
X

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में लगातार नए ट्विस्ट एंड टर्न देखने को मिल रहे हैं। जहां आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन में शामिल आरएलएसपी ने चुनाव से ठीक पहले अपना रास्ता अलग कर लिया। इसी बीच अब सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में भी टूट के आसार नजर आ रहे हैं। इस बात की पूरी संभावना है कि बिहार एनडीए में शामिल एलजेपी जल्द ही गठबंधन छोड़ने का फैसला ले सकती है। माना जा रहा कि पार्टी की शनिवार शाम होने वाली संसदीय दल की बैठक में इसका औपचारिक ऐलान हो जाएगा। वहीं इस बदले सियासी घटनाक्रम के बीच बीजेपी और जेडीयू को चिराग पासवान के अगले फैसले का इंतजार है।

चिराग पासवान के नेतृत्व वाली लोक जनशक्ति पार्टी लगातार जेडीयू पर हमलावर रही है। शुक्रवार को भी चिराग पासवान ने एक बार फिर से बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा और उनके ड्रीम प्रोजेक्ट 'सात निश्चय' कार्यक्रम पर सवाल खड़े किए। एलजेपी प्रमुख के बदले तेवर को देखते हुए अब बीजेपी और जेडीयू को लग रहा है कि उन्हें विधानसभा चुनाव में चिराग पासवान के नेतृत्व वाली पार्टी के बिना ही उतरना होगा। इससे पहले चिराग पासवान ने अपनी बात रखने के लिए अमित शाह से भी गुरुवार को मुलाकात की थी। हालांकि, ऐसा लग रहा कि सुलह का रास्ता नहीं निकला।

एनडीए में जारी इस पूरे सियासी घमासान में खास बात ये भी है कि एलजेपी की नाराजगी सिर्फ जेडीयू को लेकर है। पार्टी का बीजेपी के साथ कोई टकराव नहीं है। यही वजह है कि एलजेपी आगामी चुनाव में अकेले उतरती है तो ये माना जा रहा कि वो बीजेपी के खिलाफ उम्मीदवार उतारने पर विचार नहीं कर रही है। दूसरी ओर बीजेपी को लग गया है कि चिराग पासवान अलग रास्ता अख्तियार करेंगे ऐसे में बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव और बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस शुक्रवार को दिल्ली रवाना हो गए। बीजेपी सूत्रों के मुताबिक, बिहार चुनाव में पार्टी उम्मीदवारों की लिस्ट को लेकर वो दिल्ली गए हैं।

भूपेंद्र यादव और देवेंद्र फडणवीस दो दिनों से पटना में थे और इस दौरान पार्टी इलेक्शन मैनेजमेंट कमेटी की बैठक और कोर कमेटी की बैठक में शामिल हुए। ये दोनों ही बैठक सुशील कुमार मोदी के आवास पर हुई थी। इसमें 110 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम को लेकर चर्चा हुई। बिहार बीजेपी से जुड़े सूत्र के मुताबिक, शुक्रवार को भी अहम बैठक हुई जिसमें उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा की गई। माना जा रहा कि बीजेपी केंद्रीय चुनाव समिति शनिवार या फिर रविवार तक पार्टी उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर देगी। यही नहीं भूपेंद्र यादव लगातार जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार से भी फोन के जरिए संपर्क में रहे और चिराग पासवान को लेकर चर्चा की।

एलजेपी को लेकर बीजेपी से जुड़े सूत्र ने बताया कि उनका बिहार एनडीए से जाना तय लग रहा है। बस इंतजार है उस समय का जब इस बात का औपचारिक ऐलान होगा। माना जा रहा कि चिराग पासवान खुद ही अलग होने का ऐलान करेंगे। इस बीच चिराग पासवान शनिवार को पार्टी संसदीय समिति की बैठक में 143 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा करेंगे। इसके बाद पार्टी अपनी आगे की रणनीति पर बढ़ेगी।

Next Story
Share it