Top
Janskati Samachar

Dharmendra Yadav Biography In Hindi | धर्मेन्द्र यादव का जीवन परिचय

Dharmendra Yadav Biography In Hindi | धर्मेंद्र यादव उत्तर प्रदेश के युवा और गतिशील राजनेताओं में से एक हैं। 16 वीं लोकसभा के लिए फिर से भाजपा के वागीश पाठक को हराकर, वे बदायूं निर्वाचन क्षेत्र के प्रतिनिधि हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश में लगातार तीन संसदीय चुनाव जीते, पहला मैनपुरी से और अगले दो बदायूं निर्वाचन क्षेत्र से।

Dharmendra Yadav Biography In Hindi | धर्मेन्द्र यादव का जीवन परिचय
X

Dharmendra Yadav Biography In Hindi | धर्मेन्द्र यादव का जीवन परिचय

पूरा नाम: धर्मेंद्र यादव

जन्म स्थान: सैफई, जिला- इटावा (उत्तर प्रदेश)

पार्टी का नाम: Samajwadi Party

शिक्षा: Post Graduate

व्यवसाय: राजनीतिज्ञ

पिता का नाम: श्री अभय राम यादव

माता का नाम: स्वर्गीय श्रीमती जय देवी

पत्नी का नाम: श्रीमती नीलम यादव

सम्पर्क: स्थाई पता हाउस नंबर -108 गाँव - सैफ़ई, पोस्ट-सैफ़ई, जिला-इटावा, यूपी

वर्तमान पता: 91, लोधी एस्टेट, नई दिल्ली।

सम्‍पर्क नंबर: 09868180673

ई-मेल: dharmandrayadavbadaun@gmail.com

Dharmendra Yadav Biography In Hindi | धर्मेन्द्र यादव का जीवन परिचय

धर्मेन्द्र यादव का जन्म इटावा जिले के गाँव सैफई में 3 फरवरी 1979 को हुआ था, धर्मेन्द्र यादव के पिता जी का नाम अभयराम यादव और माता जी का नाम जय देवी है। अपने गाँव सैफई में ही धर्मेन्द्र यादव ने कक्षा- आठ तक की शिक्षा ग्रहण की और उसके बाद उच्च शिक्षा के लिए इलाहाबाद चले गये, उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में परास्नातक की डिग्री के साथ एलएलबी की डिग्री भी प्राप्त की है।

सांसद धर्मेन्द्र यादव का राजनितिक सफर (Political journey of MP Dharmendra Yadav)

धर्मेन्द्र यादव ने अपनी राजनीति की शुरूआत छात्र जीवन से ही कर दी थी उन्होने इलाहवाद विश्वविद्यालय में समाजवादीयो का झंडा हमेशा बुलंद ही रखा । जव वह इलाहवाद विश्वविद्यालय अपनी पड़ाई पूरी कर रहे हैं उनके ताऊ रतन सिंह यादव के बेटे रणवीर सिंह यादव का देहावसान हो गया जो उस समय सैफई ब्लाक के प्रमुख थे । इस कारण नेताजी मुलायम सिंह यादव के निर्देश पर धर्मेन्द्र यादव को इलाहाबाद को छोड़कर सैफई आना पड़ा और 2003 में धर्मेन्द्र यादव सैफई के व्लाक प्रमुख बने । उसके बाद धर्मन्द्र यादव ने 2004 के 14वीं लोकसभा चुनाव में मैनपुरी से चुनाव लड़ा तव उनकी उम्र 25 बर्ष थी मैनपुरी से रिकॉर्ड मतों से विजयी घोषित हुए, साथ ही 14वीं लोकसभा में सबसे कम उम्र का सांसद बनने का उन्होंने रिकॉर्ड बनाया ।

इसके बाद धर्मेंद्र यादव ने 15वीं लोकसभा के लिए बदायूं से चुनाव लड़ा और माफिया डॉन डीपी यादव को भी धूल चटा दी, वर्तमान में भी बदायूं लोकसभा क्षेत्र से धर्मेन्द्र यादव सांसद हैं और मोदी लहर में रिकॉर्ड मतों से जीत कर अपनी अलग पहचान कायम कर चुके हैं, इसके अलावा वे महत्वपूर्ण संसदीय समिति के अध्यक्ष और कई अन्य समितियों के सदस्य हैं, साथ ही वर्ष- 2005 से 2007 तक यूपी को-ऑपरेटिव बैंक के चेयरमैन भी रह चुके हैं।

देश के साथ विदेशों में भी खूव मचाई धूम

धर्मेन्द्र यादव ने देश के साथ साथ विदेशों में भी अपनी राजनितिक कौशल का लोहा मनवाया हैं बात अक्टूबर 2012 की हैं जव उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा को हिन्दी में संबोधित कर धूम मचा दी थी और हिंदी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा में ला दिया था, वे वर्तमान में संसद में सरकार को घेरने वाले नेताओं में प्रमुख स्थान बना चुके हैं और तीखे सवाल और जोरदार भाषण के द्वारा सरकार में बैठे नेताओं को असहज करते रहते हैं, धर्मेन्द्र यादव संसद में किये गये सवालों को लेकर भी रिकॉर्ड बना चुके हैं।अपने आप को समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता मानने वाले धर्मेन्द्र यादव हाल-फिलहाल समाजवादी पार्टी के स्टार प्रचारक हैं और अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवाद को फैलाने में रात-दिन कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

धर्मेन्द्र यादव जी के भाषण :-





Next Story
Share it