Top
Janskati Samachar

बड़ी खबर: राहुल गांधी भाजपा पर हुए आक्रामक, कहा- कर्नाटक की जनता ने साबित कर दिया कि 'मोदी' और हत्यारोपी 'अमित शाह' मिलकर भी लोकतंत्र नहीं खरीद सकते

बड़ी खबर: राहुल गांधी भाजपा पर हुए आक्रामक, कहा- कर्नाटक की जनता ने साबित कर दिया कि मोदी और हत्यारोपी अमित शाह मिलकर भी लोकतंत्र नहीं खरीद सकते
X

कर्नाटक विधानसभा में बहुमत को लेकर जारी हाईवोल्टेज ड्रामे का आखिरकार अंत हो गया है। बीएस येदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया है। वह थोड़ी देर में अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौपेंगें। अब कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार बनना तय हो गया है। येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मुझे गर्व है कि कर्नाटक की जनता ने प्रधानमंत्री मोदी और हत्यारोपी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को दिखा दिया कि वे लोकतंत्र को खरीद नहीं सकते हैं। उन्होंने कहा कि भारत में ताकत और पैसा ही सबकुछ नहीं है।


मुझे उम्मीद है कि बीजेपी और आरएसएस ने कर्नाटक से सबक सीखा होगा। मीडिया के सामने खुलेआम बीजेपी ने कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को खरीदने की कोशिश की। उन्होंने बीजेपी विधायकों पर हमला बोलते हुए कहा कि देश की जनता ने टेलीविजन पर देखा कि कर्नाटक विधानसभा में राष्ट्रगान बजने से पहले ही बीजेपी के विधायक उठकर चले गए। ये उनका स्वभाव है कि वे हिंदुस्तान के किसी भी संस्थान की इज्जत नहीं करते हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी के राजनीतिक कद पर बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री हिंदुस्तान से बड़े नहीं हैं, न वे सुप्रीम कोर्ट से बड़े हैं।


पीएम मोदी का रवैया लोकतांत्रिक नहीं, बल्कि तानाशाहों वाला है। विपक्ष अपने सहयोग से बीजेपी को हराएगा। देश भर में लगातार हमला हो रहा है। बीजेपी और आरएसएस को हम रोकेंगे। राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों की खरीद-फरोख्त को मंजूरी दी। प्रधानमंत्री कहते हैं कि वे भ्रष्टाचार से लड़ रहे हैं, लेकिन असल में वे भ्रष्टाचार हैं। हमने फोन पर हुई बातचीत सार्वजनिक रूप से रखी है।


प्रधानमंत्री एक के बाद एक जनादेश का अपमान कर रहे हैं। बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने शपथ लेने के दो दिनों बाद शनिवार को पद से इस्तीफा दे दिया। येदियुरप्पा ने विधानसभा में बहुमत के लिए पक्ष में आवश्यक सदस्यों की संख्या न होने के कारण इस्तीफा दिया है।

Next Story
Share it