Janskati Samachar

BREAKING: तेजस्वी से सहमे नितीश कुमार, मारे डर के घर में ही बुला लिया पार्टी की बैठक!

BREAKING: तेजस्वी से सहमे नितीश कुमार, मारे डर के घर में ही  बुला लिया पार्टी की बैठक!
X

जनाक्रोश और जनादेश का अपमान करने से इतना डर गए हैं कि राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का स्थान ही बदल दिया। नीतीश जी ने बैठक का जगह होटल मौर्या से बदलकर सीएम आवास रख लिया। तेजस्वी यादव ने ट्विट कर मुख्यमंत्री पर हमला बोला।


पहली बार कोई मुख्यमंत्री इतना डरा हुआ है

तेजस्वी ने कहा कि देश में पहली बार कोई मुख्यमंत्री इतना डरा हुआ है कि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को सीएम आवास में रखा है। उन्होंने सवालिय लहजे में कहा कि जनता से इतना ही डर लगता है तो ऐसे काम ही क्यों करते हैं। बिहार में बाढ के कहर को लेकर उन्होंने कहा कि 20 दिन पहले बाढ़ की संभावना और चेतावनी के बावजूद नीतीश जी उसकी तैयारी करने की बजाय बिहार के साथ छल-कपट कर कुर्सी के खेल में व्यस्त थे।



नीतीश कुमार हर घाट का पानी पी लिए हैं

जमुई में जनादेश अपमान सभा में लोगों को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार हर घाट का पानी पी लिए हैं। चार साल में चार सरकार बदल चुके हैं। जनता इस तरह सरकार बदलने के लिए वोट नहीं देता है। जनता काम के लिए वोट देती है। बिहार में विकास के लिए वोट देती है। उन्होंने कहा कि आज भी हमारा महागठबंधन कायम है। नीतीश की जदयू नकली और सरकारी है। असली जदयू शरद यादव की है।

सहरसा जिले में भी 160 करोड़ का घोटाला हुआ है
राजद सुप्रीमो लालू यादव ने कहा कि भागलपुर के बाद अब सहरसा जिले में भी 160 करोड़ का घोटाला हुआ है। गलत तरीके से सरकारी राशि की अवैध निकासी की गई है। उन्होंने कहा कि सृजन घोटाले की अगर निष्पक्ष जांच की जाए तो यह घोटाला 15000 करोड़ से भी ज़्यादा का होगा।

लालू यादव ने ट्वीट कर यह बाते कही।
इससे पहले लालू प्रसाद ने चारा घोटाले के चार मामलों में गुरुवार को सीबीआइ के तीन विशेष कोर्ट में हाजिरी लगाई। वे देवघर, दुमका, डोरंडा व चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में कोर्ट में उपस्थित हुए थे। सुनवाई के दौरान लालू ने कोर्ट से आग्रह किया कि हुजूर 27 अगस्त के बाद सुनवाई की तिथि निर्धारित की जाए तो गवाह लाने में उन्हें सहूलियत होगी। कोर्ट ने इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया है, शुक्रवार को इस पर सुनवाई होगी।


गौरतलब है कि 27 अगस्त को लालू ने पटना में राजद की विशाल रैली आहूत कर रखी है, ऐसा माना जा रहा है कि इसी के मद्देनजर लालू ने इस तारीख के बाद का समय मांगा है।

Next Story
Share it