Janskati Samachar

सुशांत केस: प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने अर्णब गोस्वामी को भेजा लीगल नोटिस, किया इतने सौ करोड़ का मानहानि केस

प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने रिपब्लिक टीवी और अर्णब गोस्वामी के खिलाफ मानहानि केस किया है और 200 करोड़ रुपए के मुआवजे की मांग की है. रिपब्लिक टीवी ने उन्हें सुशांत सिंह राजपूत की हत्या का मास्टर माइंड बताया था.

सुशांत केस: प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने अर्णब गोस्वामी को भेजा लीगल नोटिस, किया इतने सौ  करोड़ का मानहानि केस
X

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत को 4 महीने पूरे हो चुके हैं. सुशांत ने 14 जून 2020 को कथित तौर पर आत्महत्या की थी. वह अपने घर में मृत पाए गए थे. उनकी मौत को मुंबई पुलिस ने सुसाइड करार दिया था. हालांकि बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और सुशांत के परिवार ने उनकी मौत को हत्या बताया था. मुंबई पुलिस की जांच पर संतुष्ट नहीं होने पर सुशांत के परिवार के बिहार में केस दर्ज किया और इसके बाद मामला सीबीआई के पास गया और वह इस मामले की जांच कर रही है.

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच के बीच कई न्यूज चैनलों ने अपने-अपने तरीके से इसे परिभाषित किया और कई लोगों को आरोपी बताया. इनमें एक न्यूज चैनल रिपब्लिक टीवी भी शामिल रहा. रिपब्लिक टीवी के अर्णब गोस्वामी और अन्य पत्रकारों ने फिल्म प्रोड्यूसर और सुशांत के करीबी दोस्त रहे संदीप सिंह को सुशांत की हत्या का मास्टर माइंड बताया था और उनसे संबंधित स्टिंग चलाए थे. इसके बाद संदीप सिंह कई दिनों तक मीडिया की पहुंच से दूर रहे.

रिपब्लिक टीवी के खिलाफ केस दर्ज

लेकिन हाल ही में आए टीआरपी घोटाले में रिपब्लिक टीवी सहित कई चैनलों का नाम सामने आने के बाद पूरा सच सामने आ गया कि ये सब सिर्फ टीआरपी बटोरने के लिए किया गया. इस दौरान रिपब्लिक टीवी ने ऐसी कई खबरें चलाई जिससे संदीप सिंह को छवि को नुकसान पहुंचा. अब संदीप सिंह ने रिपब्लिक टीवी और अर्णब गोस्वामी के पर मानहानि का केस दर्ज करवाया है. संदीप सिंह ने न्यूज चैनल को लीगल नोटिस भेजा है.

200 करोड़ का मुआवजा

संदीप ने लीगल नोटिस की कॉपी सोशल मीडिया पर भी शेयर की है. संदीप सिंह ने छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए चैनल को 200 करोड़ रुपए की मुआवजे की मांग की है. संदीप सिंह ने इसे शेयर करते हुए लिखा,"अब भुगतान वक्त आ गया है." इस नोटि में संदीप सिंह के खिलाफ दिखाई गई या लिखी गई गलत खबरों के वीडियो, फुटेज और आर्टिकल हटाने और लिखित या फिर वीडियो जारी कर माफी मांगने की भी बात कही गई है.

Next Story
Share it