Top
Janskati Samachar

Kangana Ranaut Biography in Hindi | कंगना रनौत का जीवन परिचय

Kangana Ranaut Biography in Hindi | कंगना रनौत हिन्दी फ़िल्मी इंडस्ट्री की जानी मानी अभिनेत्री है। इन्होने अपनी मेहनत के दम पर बॉलीवुड में अपना एक अलग मुकाम बनाया है। मॉडल से अभिनेत्री बनी कंगना का जीवन काफी संघर्ष भरा रहा है।

Kangana Ranaut Biography in Hindi | कंगना रनौत का जीवन परिचय
X

Kangana Ranaut Biography in Hindi | कंगना रनौत का जीवन परिचय

  • नाम कंगना अमरदीप रनौत
  • जन्म 23 मार्च 1986
  • जन्मस्थान भांबला, जिला मंडी, हिमाचल प्रदेश, भारत
  • पिता अमरदीप रनौत
  • माता आशा रनौत
  • शिक्षा 12 वीं कक्षा
  • व्यवसाय अभिनेत्री, फिल्म निर्माता
  • पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार
  • जाति राजपूत
  • नागरिकता भारतीय

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut Biography in Hindi)

Kangana Ranaut Biography in Hindi | कंगना रनौत हिन्दी फ़िल्मी इंडस्ट्री की जानी मानी अभिनेत्री है। इन्होने अपनी मेहनत के दम पर बॉलीवुड में अपना एक अलग मुकाम बनाया है। मॉडल से अभिनेत्री बनी कंगना का जीवन काफी संघर्ष भरा रहा है। गैंगस्टर फिल्म से अपने कैरियर की शुरुआत करने वाली कंगना ने अब तक कई बड़ी हिट फिल्मे दी है। पुरुष प्रधान माने जाने वाले बॉलीवुड में कंगना ने महिला किरदारों पर आधारित फिल्म में बड़ी सफलता हासिल कर सभी को हैरान कर दिया है। इनकी फिल्म की सफलता का नायक हीरो नहीं बल्कि कंगना खुद होती है। कंगना भारत के सबसे प्रसिद्ध सेलिब्रिटीज में कंगना भी शामिल है।

कंगना रनौत प्रारंभिक जीवन (Kangana Ranaut Early Life)

कंगना रनौत का जन्म का जन्‍म 23 मार्च 1987 को हिमाचल प्रदेश के एक राजपूत परिवार में हुआ था। इनके पिता का नाम अमरदीप रनौत और माता का नाम आशा रनौत है। उनके पिता अमरदीप रनौत एक बिजनेसमैन थे और मां आशा रनौत एक स्कूल टीचर। उनकी एक बड़ी बहन भी हैं जिनका नाम रंगोली रनौत है और अब वे कंगना की मेनेजर है। कंगना का एक छोटा भाई है जिसका नाम अक्षत रनौत है। कंगना के दादाजी एक IAS अफसर थे और उनके परदादा सरजू सिंह रनौत लेजिस्लेटिव असेंबली के सदस्य थे।

शिक्षा (Kangana Ranaut Education)

इनकी प्रारंभिक शिक्षा डी.ए.वी स्कूल, चंडीगढ़ से हुई है। यह बचपन से पढ़ाई मे बहुत होशियार थी, इसलिये इनके परिवार की इच्छा थी, कि ये डॉक्टर बने। जिसके कारण इन पर पढ़ाई का और दबाव था, लेकिन 12 वी में वह केमिस्ट्री की यूनिट टेस्ट में फेल हो गयी और तभी से रनौत ने ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट देने की बजाये अपने करियर को पुनः निर्धारित करने की ठानी। इसके बाद कुछ समय के लिये वह 16 साल की उम्र में ही दिल्ली आ गयी। उस समय वह मेडिकल के क्षेत्र में नही जाना चाहती थी।

कंगना रनौत मॉडलिंग करियर (Kangana Ranaut Modeling Career)

दिल्ली में कंगना को कुछ पता नही था की वह कौनसे क्षेत्र में अपना करियर बनाये, लेकिन अचानक ही एक मॉडलिंग एजेंसी उनके अंदाज़ और लुक्स से काफी प्रभावित हो गयी। इसके बाद उन्होंने कुछ मॉडलिंग असाइनमेंट किये लेकिन उन्हें इस क्षेत्र में ज्यादा रूचि नही थी क्योकि उन्हें ऐसा लगता था की इस क्षेत्र में क्रिएटिविटी के लिये कोई खास जगह नही है।

कंगना रनौत शुरुआती एक्टिंग करियर (Kangana Ranaut Starting Career)

इसके बाद कंगना ने एक्टिंग पर ध्यान देने की ठानी और अस्मिता थिएटर ग्रुप में शामिल हो गयी, जहा डायरेक्टर अरविन्द गौर ने उन्हें प्रशिक्षित किया था। इसके बाद उन्होंने गौर के थिएटर वर्कशॉप में भी भाग लिया था और बहुत से नाटको में भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया था। एक प्रदर्शन के समय जब मेल एक्टर गायब था, तब रनौत ने अपने रोल के साथ-साथ उस एक्टर का रोल भी निभाया था। जिसके लिये दर्शको से भी उन्हें सकारात्मक प्रतिसाद मिला था।

बाद मे वह एक्टिंग में ही अपना करियर बनाने के लिये मुंबई आ गयी और उन्होंने सबसे पहले खुद को आशा चंद्रा की ड्रामा स्कूल में चार महीने के एक्टिंग कोर्स के लिये दाखिल करवाया। कहा जाता है की फिल्म इंडस्ट्री में रनौत के प्रारंभिक वर्ष मुश्किलों से भरे पड़े थे। वह जानती थी की इंग्लिश भाषा का उन्हें उतना ज्ञान नही है और उन्हें एक्ट्रेस बनने के लिये भी कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा था।

कंगना रनौत फिल्मी करियर (Kangana Ranaut Filmy Career)

कंगना ने 2006 में आयी थ्रिलर फिल्म "गैंगस्टर" से डेब्यू किया था। जिसके लिये उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट फीमेल डेब्यू अवार्ड भी मिला था। इसके बाद 2006 में आयी फिल्म "वोह लम्हे" में उन्होंने एक भावुक किरदार की भूमिका निभाई।

इसके बाद "लाइफ इन मेट्रो" (2007) और "फैशन" (2008) जैसी उन्होंने बहुत सी सुपरहिट फिल्मे की है। इसके लिये उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का राष्ट्रिय अवार्ड और इसी श्रेणी में उन्हें एक फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला है।

इसके बाद कंगना ने कमर्शियल सफल फिल्म "राज़ : दी मिस्ट्री कंटिन्यू" (2009) और "वन्स अपॉन ए टाइम इन मुंबई" (2010) की। इसके बाद उन्होंने 2011 में बॉक्स ऑफिस हिट फिल्म "तनु वेड्स मनु" में आर. माधवन के साथ एक कॉमिक रोल निभाया।

बाद में उन्होंने हृतिक रोशन की साइंस फिक्शन फिल्म "क्रिश 3" (2013) में एक उत्परिवर्ती जंतु का किरदार निभाया था। जो बॉलीवुड की सबसे सफलतम फिल्म में से एक है। 2014 में आयी फिल्म "क्वीन" में उनके प्रदर्शन के लिये उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर और नेशनल फिल्म अवार्ड भी मिला।

2015 में रनौत ने "तनु वेड्स मनु रिटर्न्स" में ड्यूल रोल निभाया, जो किसी भी महिला की सबसे सफलतम बॉलीवुड फिल्म रही, इसके लिये उन्हें फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड और बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड भी मिला।

कंगना की फिल्म "मणिकर्णिका – द क्वीन ओद झाँसी", झाँसी की रानी के जीवन की कठिनाइयों पर आधारित यह फिल्म उनके साहस को दर्शाती है इस फिल्म में कंगना मुख्य किरदार झाँसी की रानी के रूप में नजर आयी।

कंगना रनौत विवाद (Kangana Ranaut Dispute)

इनके अध्यन से ब्रेकप के बाद अध्यन ने इनपर कई आरोप लगाए जो विवाद का कारण बने। अध्यन ने यह भी कहा कि जब मैंने इनसे अपना रिश्ता खत्म किया तो मुझे और मेरी माँ को कई फेक फोन काल आए और हमें अपशब्द कहे गए।कंगना और ऋतिक का विवाद भी मीडिया में काफी दिनों तक छाया रहा कंगना ने ऋतिक पर आरोप लगाए, ईमेल लिक करने की धमकी दी और इनके बीच कानूनी लड़ाई के बाद इनका मामला खत्म हुआ।

कंगना रनौत फ़िल्म लिस्ट (Kangana Ranaut Film List)

  • गैंगस्टर
  • वो लम्हे
  • शाकालाका बूम बूम
  • तारा रम पम
  • लाइफ़ इन अ मेट्रो
  • धाम धूम
  • फैशन
  • वन्स अपॉन ए टाईम इन मुम्बई
  • तनु वेड्स मनु
  • तेज़
  • शूटआऊट ऍट वडाला
  • कृष 3
  • क्वीन
  • तनु वेड्स मनु: रिटर्न्स
  • रंगून
  • मणिकर्णिका: झाँसी की रानी

कंगना रनौत अवार्ड्स (Kangana Ranaut Awards)

  • फैशन (2008) के लिये बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवार्ड मिला।
  • क्वीन (2014) के लिये बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड मिला।
  • तनु वेड्स मनु रिटर्न्स (2015) के लिये भी बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड मिला।
  • गैंगस्टर (2006) के लिये बेस्ट फीमेल डेब्यू अवार्ड मिला।
Next Story
Share it