Top
Janskati Samachar

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत में बहुमत प्राप्त दल के नेता को प्रधानमंत्री का पद दिया जाता है. वर्ष 1947 से 2019 तक भारत में अब तक 15 प्रधानमंत्री बने हैं. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 75 के तहत, प्रधानमंत्री की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा की जाती है.

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची
X

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत में बहुमत प्राप्त दल के नेता को प्रधानमंत्री का पद दिया जाता है. वर्ष 1947 से 2019 तक भारत में अब तक 15 प्रधानमंत्री बने हैं. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 75 के तहत, प्रधानमंत्री की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा की जाती है. भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर मोदी हैं. प्रधानमंत्री के पद पर सबसे अधिक समय तक कार्य करने वाले पंडित जवाहर लाल नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री थे. जिन्होंने 6130 दिनों तक इस पद पर रह कर देश के लिए कार्य किया. इसके बाद इंदिरा गाँधी ने 5829 दिन व डॉ. मनमोहन सिंह ने 3656 दिन तक इस पद पर कार्य किया.

List of all Prime Ministers of India in Hindi | भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची

  1. पंडित जवाहरलाल नेहरू 15 अगस्त 1947- 27 मई 1964
  2. गुलजारीलाल नंदा (अंतरिम) 27 मई 1964- 9 जून 1964
  3. लाल बहादुर शास्त्री 9 जून 1964 -11 जनवरी 1966
  4. गुलजारीलाल नंदा 11 जनवरी 1966- 24 जनवरी 1966
  5. इंदिरा गांधी 24 जनवरी 1966- 24 मार्च 1977
  6. मोरारजी देसाई 24 मार्च 1977- 28 जुलाई 1979
  7. चरण सिंह 28 जुलाई 1979- 14 जनवरी 1980
  8. इंदिरा गांधी 14 जनवरी 1980- 31 अक्टूबर 1984
  9. राजीव गांधी 31 अक्टूबर 1984- 2 दिसंबर 1989
  10. विश्व प्रताप सिंह 2 दिसंबर 1989- 10 नवंबर 1990
  11. चंद्र शेखर 10 नवंबर 1990-21 जून 1991
  12. पी. वी. नरसिम्हा राव 21 जून 1991- 16 मई 1996
  13. अटल बिहारी वाजपेयी 16 मई 1996-1 जून 1996
  14. एच. डी. देवगौड़ा 1 जून 1996- 21 अप्रैल 1997
  15. इंद्र कुमार गुजराल 21 अप्रैल 1997- 18 मार्च 1998
  16. अटल बिहारी वाजपेयी 18 मार्च 1998- 22 मई 2004
  17. डॉ. मनमोहन सिंह 22 मई 2004 -17 मई 2014
  18. नरेंद्र मोदी 26 मई 2014 -अब तक


जवाहरलाल नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे जो अपने जीवन के अंतिम समय तक देश के प्रधान मंत्री बने रहे (1952-1964). वह भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में एक प्रमुख नेता थे. जिन्हें बच्चे प्यार से चाचा नेहरू भी कहते थे.

1964 में लाल बहादुर शास्त्री ने भारत के प्रधान मंत्री का पद संभाला. उन्होंने 1965 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान देश का नेतृत्व किया. वर्ष 1966 में ताशकंद समझौते के साथ युद्ध समाप्त हो गया. लेकिन इसके बाद cardiac attack के कारण ताशकंद में उनकी मृत्यु हो गई.

इसके बाद, इंदिरा गांधी (1967-1977) को भारत के तीसरे प्रधानमंत्री और भारत की पहली महिला प्रधान मंत्री के रूप में चुना गया. 1971 के चुनावों में वह फिर से चुनी गईं. जिसमें उसने पश्चिमी पाकिस्तान के साथ लड़ाई का नेतृत्व किया और एक स्वतंत्र राष्ट्र बांग्लादेश बनाने में मदद की. 1977 में मोरारजी देसाई PM बने लेकिन 1980 के चुनावों में वह फिर से भारत की प्रधानमंत्री बन गई और 1984 में उनके गार्ड ने उनकी हत्या कर दी.

1977 के आम चुनाव में, मोरारजी देसाई प्रधान मंत्री बने, जो जनता पार्टी से थे, लेकिन 1979 में उन्हें स्तीफा देना पड़ा. वह वर्ष 1977 में भारत के पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने थे.

1984 में इंदिरा गांधी की मृत्यु के बाद, उनके पुत्र राजीव गांधी भारत के प्रधान मंत्री बने जो 1989 तक प्रधानमंत्री बने रहे. 1991 के चुनाव के लिए प्रचार करते समय, LTTE के एक आत्मघाती हमलावर द्वारा उनकी हत्या कर दी गई थी.

तब विश्वनाथ प्रताप सिंह और चंद्र शेखर क्रमशः 1989 और 1990 में प्रधान मंत्री पद पर चुने गए. जिनका कार्य काल एक साल से भी कम था.

पी. वी. नरसिम्हा राव को 1991 में भारत के प्रधानमंत्री के रूप में चुना गया था. वह 1996 तक इस पद पर बने रहे.

फिर, 1996 में अटल बिहारी वाजपेयी 2004 तक पीएम बने और बीच में दो बार PM पद के लिए चुने गए. अपने कार्यकाल के दौरान, उन्होंने 1998 में पोखरण -2 परमाणु परीक्षण किया. जिसमें भारत ने परमाणु परिक्षण में सफलता प्राप्त की.

फिर वर्ष 2004 में मनमोहन सिंह भारत के प्रधानमंत्री बने, 2009 के चुनाव में उन्हें फिर से चुना गया.

2014 में, नरेंद्र मोदी भाजपा के सदस्य के रूप में भारत के 15 वें प्रधानमंत्री बने जो वर्ष 2019 में फिर से चुने गए और अभी भारत के प्रधान मंत्री हैं. उन्होंने योजना आयोग को समाप्त कर दिया और भारत की लघु और दीर्घकालिक नीति नियोजन के लिए निति आयोग बनाया. इससे पहले, वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे.

Next Story
Share it